महाराष्ट्र के ठाणे जिले के उल्हासनगर में एक 26 साल के आदमी ने अपनी 25 वर्षीय पत्नी की कथित तौर पर गला घोंटकर हत्या कर दी और उसके शव को घर में जला दिया। दरअसल पति को शक था कि उसकी पत्नी का किसी दूसरे आदमी के साथ चक्कर चल रहा है जिसके चलते उसने जूते के फीते से अपनी पत्नी का गला घोंट दिया और उसकी जान ले ली। बाद में पुलिस को गुमराह करने के लिए उसने शव को जला दिया।

ठाणे पुलिस ने शुक्रवार को उसे गिरफ्तार कर लिया।पुलिस के मुताबिक, सबूत मिटाने और जांच को गुमराह करने के लिए आरोपी ने अपनी पत्नी के शरीर पर मिट्टी का तेल डाला और उसे जला दिया। अपराध की शिकार महिला की पहचान सुशीला साहेबराव निकलजे के रूप में हुई है। उसकी शादी सूरज आनंद खरात से हुई थी, जो एक कैटरर के साथ वेटर का काम करता था।

पुलिस के मुताबिक, आरोपी सूरज आनंद खरात को शक था कि उसकी पत्नी का अफेयर चल रहा है और इसी बात को लेकर दोनों के बीच कई झगड़े हुए. अगस्त के मध्य में ऐसी ही एक लड़ाई के दौरान खरात ने फावड़े से अपनी पत्नी की गला घोंटकर हत्या कर दी।

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक पुलिस ने बताया कि यह आवेश में हो गया और जब तक पति होश में आया महिला की मौत हो चुकी थी। इसलिए उसने सोचा कि वह उसे जलाकर सभी गुमराह कर देगा क्योंकि जलने के बाद शव की पहचान करने में कठिनाई होगी। पति ने यह भी सोचा था कि पुलिस को लगेगा कि यह आत्महत्या का मामला है।

सुशीला साहेबराव निकलजे का शव 22 अगस्त को उस समय मिला जब दंपति के पड़ोसियों ने पुलिस को सूचना दी कि उनके घर से दुर्गंध आ रही है। जिसके बाद शिवाजी नगर थाने की एक टीम मौके पर पहुंची। इंस्पेक्टर महेश तारडे ने कहा, “उसके शरीर को पोस्टमॉर्टम के लिए जेजे अस्पताल भेजा गया था और डॉक्टरों ने कहा कि उसके शरीर को आग लगाने से पहले उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी गई थी। इसके बाद, शिवाजी नगर पुलिस स्टेशन में हत्या और सबूत नष्ट करने का मामला दर्ज किया गया था।”

जब पुलिस ने पीड़ित की पहचान करने के लिए उनके पड़ोस में दंपति के बारे में पूछताछ की, तो किसी को भी उनके बारे में ज्यादा जानकारी नहीं थी क्योंकि वे हाल ही में वहां गए थे। अंत में, पुलिस को एक महिला मिली जिसने उनकी पहचान का खुलासा किया और सूरज आनंद खरात का फोन नंबर साझा किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *