पाकिस्तान के एनएसए द्वारा लाहौर बम विस्फोट का जिम्मेदार भारत को बताए जाने पर अरिंदम बागची ने कहा, ‘भारत के खिलाफ आधारहीन प्रोपेगंडा शुरू करना पाकिस्तान के लिए नया नहीं है। पाकिस्तान के लिए बेहतर होगा कि वह इतनी ही ताकत के साथ अपनी स्थिति सुधारे और आतंकवाद के खिलाफ ठोस कार्रवाई करे।’

बागची ने आगे कहा कि जब आतंकवाद के मुद्दे पर बात होती है तो अंतरराष्ट्रीय समुदाय को पाकिस्तान के बारे में अच्छी तरह से पता है। उन्होंने कहा कि यह किसी और ने नहीं बल्कि उसके अपने नेतृत्व ने स्वीकार किया है, जो ओसामा बिन लादेन जैसे कुख्यात आतंकवादियों को शहीदों के रूप में महिमामंडित करता है। 

मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि काबुल और कांधार में हमारे दूतावास चल रहे हैं। हम पूरी सतर्कता के साथ अफगानिस्तान में सुरक्षा हालात पर नजर बनाए हुए हैं और वहां मौजूद सभी भारतीय नागरिकों की सुरक्षा की देखभाल भी कर रहे हैं। 

वहीं, भगोड़े कारोबारी मेहुल चोकसी और नीरव मोदी को लेकर बागची ने कहा कि इनको लेकर चल रही कानूनी कार्यवाही में अभी कोई ताजा अपटेड नहीं है। हम इस पर नजर बनाए हुए हैं। 

वीजा के मुद्दे पर मंत्रालय ने कहा कि हमें उम्मीद है कि कोविड के सुधर रहे हालात के साथ देश प्रतिबंधों में ढील देंगे। उड़ानों को फिर से शुरू करने जैसे मुद्दे हमने विदेशी राजदूतों के सामने उठाए हैं। हम उन भारतीयों की सक्रिय रूप से मदद कर रहे हैं जिन्हें दुनिया के अन्य देशों में जाना है। 

भारतीय राजदूत की ओआईसीसी के महासिचव से मुलाकात को लेकर मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि हमने बताया कि ओआईसीसी को सतर्क रहना चाहिए और निहित स्वार्थों द्वारा भारत विरोधी प्रचार के लिए मंच का इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed