कोरोना के सबसे घातक वैरिएंट डेल्टा प्लस ने पूर्वी उत्तर प्रदेश में दस्तक दे दी है। गोरखपुर और देवरिया के दो मरीजों में डेल्टा प्लस वैरिएंट की पुष्टि हुई है दो मरीजों में से एक की मौत भी हो गई है। जब से यूपी में डेल्टा प्लस वैरिएंट के केस सामने आए है, तब से राज्य में मानों हड़कंप मच गया है

यूपी में डेल्टा प्लस के जो दो मरीज मिले, उसमें एक की मौत हो गई है। मरीज देवरिया का रहने वाला था और उसकी उम्र 66 वर्ष थी। वह 17 मई को पॉजिटिव हुआ था। बीआरडी मेडिकल कॉलेज में गंभीर हाल में परिजनों ने मई महीने में ही उसे भर्ती कराया था और जून माह में उसकी मौत हो गई।

दूसरी मरीज एक एमबीबीएस की छात्रा है। उसकी उम्र 23 वर्ष है। वह बीआरडी मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस की पढ़ाई करती है और लखनऊ की रहने वाली है। यह छात्रा 26 मई को पॉजिटिव हुई थी। जिसके बाद जीन सिक्वेंसिंग सैंपल टेस्ट के लिए भेजा गया था। फिलहाल उसकी तबीयत में सुधार है।

डेल्टा प्लस वैरिएंट के सामने आने के बाद प्रदेश में जीन सिक्वेंसिंग टेस्ट कराए जा रहे हैं। करीब 600 से ज्यादा सैंपल अब तक जीन सिक्वेंसिंग के लिए भेजे जा चुके हैं। जानकारी के लिए बता दें कि, यूपी में इससे पहले भी 550 सैंपल की जीन सिक्वेंसिंग कराई गई थी। इन सैंपल की जांच आईजीआईबी दिल्ली में हुई। हालांकि, इसमें किसी डेल्टा प्लस वैरिएंट की पुष्टि नहीं हुई थी।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed