मोदी मंत्रिमंडल के विस्तार से पहले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को केंद्र सरकार पर एक बार फिर से जमकर हमला बोला है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा है कि केंद्रीय बजट 2020-21 में बंगाल के लिए केंद्रीय करों का हस्तांतरण 58,962.55 करोड़ रुपये था लेकिन हमें 44,737.1 करोड़ रुपये ही प्राप्त हआ। यानी हमें 14,225.54 करोड़ रुपये कम कर के दिए गए हैं।

उन्होंने कहा कि इसी तरह, 2019-20 में राज्य को 11,000 करोड़ रुपये की हस्तांतरण राशि नहीं मिली। हमारा पैसा हमें नहीं दिया गया है। केंद्र प्रायोजित योजनाओं के संबंध में हमें केंद्र से 33,314 करोड़ रुपये की बकाया राशि प्राप्त होनी है। यानी राज्य को लगभग 60,000 करोड़ रुपये से वंचित किया गया है।

पेट्रोल की कीमतों को लेकर भी बोला हमला
ममता ने कहा कि पेट्रोल की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी की जा रही है। केंद्र ने लोगों से पेट्रोल, डीजल से 3.71 लाख करोड़ रुपये कमाए। क्या आपको नहीं लगता कि नरेंद्र मोदी आम लोगों की जेब काट रहे हैं और अपनी जेब भर रहे हैं? ममता ने कहा कि केंद्र सरकार कोरोना टीकों पर खर्च करने के लिए 35,000 करोड़ रुपये रखे थे। जब दूसरी लहर आई तो सरकार ने धीरे-धीरे धन आवंटित किया। मैं पूछना चाहती हूं कि यह एक बार में क्यों नहीं? हमने 3 करोड़ मांगे लेकिन हमें 6 महीने में 2 करोड़ रुपये दिए। सरकार भाजपा शासित राज्यों को अधिक पैसा देती है और विपक्षी राज्यों में कम देती है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed