कई परिजन अपने बच्चों की Height लेकर को लेकर काफी परेशान रहते हैं। उन्हें यह लगता है कि कहीं बच्चों की हाइट कम ना रह जाए। क्योंकि हाइट कम रह जाने के कारण भविष्य में उन्हें कई प्रकार की दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में अगर आप भी बच्चों की हाइट को लेकर चिंतित है। तो शुरू से ही उन्हें लटकने के लिए प्रेरित करें। इससे उनकी हाइट समय के अनुसार बराबर बढ़ती रहेगी।

परिजनों का कद छोटा

दरअसल माता पिता की हाइट के अनुसार ही बच्चों की हाइट बढ़ती है। अगर माता-पिता का कद छोटा है। तो उन्हें बच्चों की हाइट बढ़ाने के लिए चिंतित होना वाजिब है। ऐसे में उन्हें शुरू से ही बच्चों को लटकने सहित अन्य उपाय के लिए प्रेरित करना चाहिए। जिससे उनकी हाइट शुरू से ही वजन और उम्र के अनुसार बढ़ती रहे।

फिजिकली एक्टिव

-बच्चों को फिटनेस और लंबाई के लिए फिजिकली एक्टिव होना बहुत जरूरी होता है। उन्हें हाइट बढ़ाने के लिए शुरू से ही पुल बार पर लटकना चाहिए। इससे बच्चों को काफी आनंद की अनुभूति होती है। वह खेल खेल में इस एक्सरसाइज को भी कर लेते हैं। इससे पोस्चर बनाने में भी काफी सहायता मिलती है।

बच्चा नजर आएगा लंबा

-बच्चे का पुल बार पर लटकने से भले ही हाइट उतनी अधिक नहीं बड़े। लेकिन बच्चे के शरीर का पोस्टर ठीक हो जाता है। जिससे बच्चा लंबा दिखाई देता है। जब बच्चा पुल बार पर रोजाना लटकेगा, तो उसके शरीर के ऊपरी हिस्से की मांसपेशियां खिंचती है और सही तरह से काम करती है। इससे उनकी मांसपेशियां, छाती, पीठ आदि भी सीधी हो जाती है और वे लंबे नजर आते हैं।

कमर और पीठ हो जाएगी सीधी

-जिन बच्चों की कमर या पीठ झुकी हुई है। वे झुक कर चलते हैं। तो उनके लिए पुल बार पर लटकना बेहतरीन एक्सरसाइज होती है। इससे उनकी कमर और पीठ भी सीधी हो जाएगी और वे सीधे खड़े रहेंगे। इससे पहले की अपेक्षा उनकी हाइट भी अधिक नजर आएगी।

इस तरह लटके पुल बार पर-बच्चों को पुल बार पर लटकने के लिए पहले आपको सहायता करनी होगी। ताकि कभी वे गिरे या और कोई समस्या हो तो आप तुरंत उनकी मदद कर सके। इसके लिए आपको बच्चे की ग्रिप पर भी फोकस करना होगा। क्योंकि बच्चे की पकड़ जितनी अच्छी होगी। वह उतने अच्छे तरीके से उतनी अधिक देर तक लटक सकेगा। आप शुरुआत में 3 से 5 सेकंड तक लटकने दे। फिर धीरे-धीरे समय बढ़ा सकते हैं।

आप इस बात का ध्यान भी रखें कि पुल बार की हाइट भी कंफर्टेबल होनी चाहिए। ताकि बच्चा उस पर आसानी से लटक सके और उसे गिरने पर कोई चोंट नहीं आए। इसलिए नीचे भी कुछ ऐसा इंतजाम करना चाहिए। क्योंकि कई बार लटकने के दौरान गिरने से गंभीर चोट भी आ सकती है। इसलिए आप नीचे फर्श पर या तो गद्दा डाल दें या फिर कच्ची जगह है तो घास आदि भी डाल सकते हैं। इससे गिरने पर चोट का भय काफी कम हो जाएगा। इसी के साथ बच्चे को शुरू से ही अलग-अलग तरह की स्ट्रैच करना सिखाये। बच्चों को योगासन भी करवाएं।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed