उत्तर प्रदेश में जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में नामांकन वापसी के आखिरी दिन बागपत में बड़ा खेल हो गया। रालोद कार्यकर्ताओं का आरोप है कि प्रशासन ने फर्जी महिला को बुलाकर रालोद की प्रत्याशी ममता का नामांकन वापस करा दिया है। इस मामले की गूंज लखनऊ तक पहुंच गई है। उधर, रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी भी दिल्ली से बागपत के लिए रवाना हो गए हैं। वहीं कलक्ट्रेट पर रालोद कार्यकर्ताओं का जमावड़ा लग गया और उन्होंने हंगामा करते हुए जमकर बवाल किया। रालोद कार्यकर्ताओं का आरोप है कि प्रशासन ने ऐसा करके लोकतंत्र की हत्या की है। रालोद कार्यकर्ता नामांकन वापस की मांग को लेकर जमकर हंगामा कर रहे हैं।

वहीं रालोद कार्यकर्ताओं ने एक वीडियो जारी कर कहा है कि ममता तो राजस्थान में हैं। कोई और महिला उनके नाम पर उनका पर्चा वापस ले गई है। रालोद विधायक और कार्यकर्ता कलक्ट्रेट में हंगामा कर रहे हैं। कार्यकर्ताओं का कहना है कि अगर मांग पूरी नहीं की गई तो हंगामा जारी रहेगा।

बता दें कि बड़ी संख्या में रालोद कार्यकर्ता और ग्रामीण कलक्ट्रेट पहुंच गए हैं। उनकी मांग है कि फर्जी तरीके से लिया गया नामांकन वापस किया जाए, नहीं तो धरना-प्रदर्शन खत्म नहीं किया जाएगा।

उधर, रालोद कार्यकर्ताओं ने एक वीडियो जारी कर कहा कि ममता अपने पति के साथ राजस्थान में हैं। उनका कहना है कि जब ममता बागपत में हैं ही नहीं तो उन्होंने नामांकन वापस कैसे ले लिया। यही नहीं वायरल वीडियो में ममता के पति जयकिशोर सरकार से आपील करते हुए कह रहे हैं कि अगर नामांकन वापस नहीं लिया गया तो वे परिवार सहित आत्मदाह कर लेंगे।

पहले भी हो चुका राजनीतिक उलटफेर
जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव में शनिवार को नामांकन से पूर्व बड़ा राजनीतिक उलटफेर देखने को मिला था। रालोद की प्रत्याशी ममता ने सवेरे ही भाजपा का दामन थाम लिया। सांसद के साथ सोशल मीडिया पर उनके फोटो वायरल हुए तो रालोद नेतृत्व सकते में आ गया था। इससे विपक्ष के पास कोई प्रत्याशी नहीं रह गया। किरकरी से बचने के लिए रालोद नेता पूरी ताकत के साथ डैमेज कंट्रोल में जुट गए। चंद घंटे बाद ही ममता अपने पति जयकिशोर के साथ रालोद के जिला कार्यालय पहुंच गईं।

इससे पहले सपा छोड़कर भाजपा में शामिल हुई बबली देवी ने नामांकन दाखिल किया था। उनके साथ हाल ही में सपा से निष्कासित पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष ओंकार यादव की मौजूदगी ने सभी को चौंका दिया था।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *