अभिनेत्री कंगना रणौत के पासपोर्ट रीन्यू मामले में पासपोर्ट प्राधिकरण ने सोमवार को बॉम्बे हाईकोर्ट को बताया कि एक बार कंगना दस्तावेजों की गलतियां सुधार दें उसके बाद नवीकरण प्रक्रिया में तेजी लाई जाएगी। क्षेत्रीय पासपोर्ट प्राधिकरण की ओर से पेश अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल अनिल सिंह ने कोर्ट को बताया कि कंगना के आवेदन में कई तथ्यात्मक गलतियां हैं। 

क्षेत्रीय पासपोर्ट प्राधिकरण ने बॉम्बे हाईकोर्ट को बताया
जस्टिस एसएस शिंदे और जस्टिस रेवती मोहिते की पीठ के समक्ष सिंह ने कहा, उदाहरण के तौर पर कंगना ने अपने आवेदन में बताया कि उनके खिलाफ आपराधिक मामले लंबित हैं जबकि कंगना के खिलाफ सिर्फ एफआईआर दर्ज है इसमें आपराधिक कार्यवाही अभी शुरू नहीं हुई है।

सिंह ने कहा, अगर कंगना के वकील रिजवान सिद्दीकी ने कोर्ट के समक्ष इस बात का स्पष्टीकरण दे दिया है और कंगना अपने आवेदन में जरूरी सुधार कर देती हैं तो पासपोर्ट प्राधिकरण उनके पासपोर्ट को रीन्यू करने की प्रक्रिया में तेजी लाएगा। पीठ ने सिंह की दलील को स्वीकार किया। इस पर रिजवान ने कहा कि कंगना जल्द ही जरूर सुधार कर आवेदन करेंगी।

बॉलीवुड में नेपोटिज्म और मूवी माफियाओं के खिलाफ हमेशा से खुलकर बोलती रही हैं। अब एक बार फिर से अभिनेत्री ने बॉलीवुड माफियाओं पर गुस्सा निकाला है और उन्होंने सोशल मीडिया पर लंबा-चौड़ा पोस्ट लिखा है। सिर्फ यही नहीं इस पोस्ट में एक्ट्रेस ने 100 एफआईआर दर्ज करने की बात तक कह दी है। कंगना ने इसमें किसी का भी नाम नहीं लिया है। 

कंगना ने क्या लिखा पोस्ट में
कंगना रणौत ने अपने इंस्टाग्राम पर पोस्ट साझा करते हुए लिखा, ‘जब भी मैं अपने नए प्रोजेक्ट की घोषणा करती हूं, मूवी माफिया के पप्पुओं की नींद उड़ जाती है। एक मूर्ख को मैं जानती हूं जिसका पसंदीदा काम फर्जी अफवाहें फैलाना है कि, उसने कहा कि 150 करोड़ का बिजनेस करने वाली मणिकर्णिका फ्लॉप है और कहा कि मेरे पास काम नहीं है। जबकि सच्चाई यह है कि वह खुद चार साल से गायब है और उसके पास कोई काम नहीं है।’

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *