कोरोना महामारी की दूसरी लहर अभी खत्म भी नहीं हुई कि अब तीसरी लहर की चर्चा होने लगी है। कई वैज्ञानिक और विशेषज्ञों ने तो इसके लिए तारीख से लेकर महीने तक भी तय कर दिए। लेकिन अब नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉक्टर वीके पॉल ने कहा है कि किसी भी लहर को लेकर तारीख और महीने तय करना उचित नहीं है। 

उन्होंने कहा कि कोरोना के डेल्टा प्लस वेरिएंट के वैक्सीन प्रभावकारिता पर प्रतिकूल प्रभाव नहीं के वैज्ञानिक साक्ष्य नहीं मिले हैं। पॉल ने कहा कि भारत सरकार जल्द से जल्द फाइजर और मॉडर्ना के कोरोना टीका को मंजूरी देने के तरीकों पर चर्चा कर रही है।

इसके अलावा डॉक्टर वीके पॉल ने आगे  कहा कि कोवाक्सिन के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन(डब्ल्यूएचओ) की आपातकालीन मंजूरी प्राप्त करने की प्रक्रिया बहुत तेजी से चल रही है और उम्मीद है कि फैसला जल्द आएगा। 

देश में ब्लैक फंगस के 40845 मामले
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा किभारत में अब तक ब्लैक फंगस के 40,845 मामले सामने आए हैं और वहीं इसके संक्रमण से मरने वाले लोगों की संख्या 3,129 है। 

दुनिया में सबसे अधिक वैक्सीन लगाने वाला देश बना भारत
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि भारत में अब तक 32,36,63,297 वैक्सीन की डोज लगाई जा चुकी हैं। इतनी अधिक मात्रा में वैक्सीन लगाने वाले देशों में भारत शीर्ष पर है। ग्लोबल वैक्सीनेशन ट्रैकर की इस लिस्ट में भारत के बाद अमेरिका का नंबर है, जहां 32.33 करोड़ वैक्सीन की डोज दी गई है।  आपको बता दें कि भारत की आबादी सवा सौ करोड़ है, जबकि अमेरिका की आबादी करीब 33 करोड़ है। अमेरिका के बाद ब्रिटेन का स्थाान है, जहां 7.67 करोड़ वैक्सीन की डोज दी जा चुकी हैं।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed