पाकिस्तान की जेल में बंद कुलभूषण जाधव के मित्र अरविंद सिंह ने अच्छी खबर दी है। उन्होंने कहा कि हमारी कूटनीतिक जीत हुई है। पाकिस्तान नेशनल असेंबली ने कानूनी प्रावधान किया है। इसके जरिए जाधव उन्हें सुनाई गई सजा को पाकिस्तान की उच्च अदालतों में चुनौती दे सकते हैं। 

बता दें, भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारी कुलभूषण जाधव पिछले कई सालों से पाकिस्तान की जेल में बंद हैं। उन्हें पाकिस्तान में विद्रोह भड़काने व जासूसी के आरोपों में फांसी की सजा सुनाई  गई है। जाधव को मुक्त कराने को लेकर भारत सरकार आईसीजे में केस लगा चुकी है। इस अंतरराष्ट्रीय अदालत ने फांसी पर रोक लगाते हुए पाकिस्तान सरकार को निर्देश दिया था कि वह जाधव को न्यायिक सुनवाई का अवसर व राजनयिक संपर्क का मौका दे। 

जाधव के मित्र अरविंद सिंह ने मुंबई में कहा कि पाकिस्तान की नेशनल असेंबली ने एक विधेयक पारित किया है, इसके जरिए जाधव को अपनी सजा के खिलाफ वहां की उच्च अदालतों में अपील का मौका मिलेगा। यह भारत व देश की जनता की जीत है। 

अरविंद सिंह ने उम्मीद जताई कि अब मामले में तेजी से प्रगति होगी और जाधव को हम जल्द हमारे बीच देख पाएंगे। सरकार जाधव को वापस लाने के लिए राजनयिक चैनलों के माध्यम से और अंतरराष्ट्रीय दबाव के जरिए प्रयास कर रही है। 

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *