कॉम्बैट आर्मी एविएशन ट्रेनिंग स्कूल, नासिक (महाराष्ट्र) में दो महिला सेना अफसरों को हेलीकॉप्टर पायलट के तौर पर अभ्यास देने के लिए चुना गया है। अब तक सेना उड्डयन कोर में महिला अफसरों को सिर्फ जमीनी कार्य सौंपा जाता था। पंद्रह महिला अफसरों ने स्वेच्छा से सेना के विमानन में सम्मिलित होने की इच्छा व्यक्त की थी। हालांकि सिर्फ दो महिला अफसरों को पायलट एप्टीट्यूड बैटरी टेस्ट (PABT) तथा चिकित्सा को सम्मिलित करने के लिए कड़ी चयन प्रक्रिया के पश्चात् चुना गया।

नासिक में अभ्यास सफलतापूर्वक पूरा करने पर चयनित महिलाएं जुलाई 2022 तक उड़ान ड्यूटी में सम्मिलित होंगी। इससे एक बार फिर से महिला सशक्तिकरण का नाम ऊंचा हुआ है। विकास से परिचित अफसरों ने मंगलवार को बताया कि दो महिला सेना अफसरों को पहली बार महाराष्ट्र के नासिक में बल के प्रमुख कॉम्बैट आर्मी एविएशन ट्रेनिंग स्कूल में हेलीकॉप्टर पायलट के तौर पर प्रशिक्षित करने के लिए चुना गया है।

सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने बीते माह महिला अफसरों को सेना की विमानन शाखा का चयन करने की मंजूरी देने के प्रस्ताव को अनुमति दी थी। इसके पश्चात् अब दो महिलाओं का इसके लिए चयन किया गया है। भारतीय वायु सेना तथा भारतीय नौसेना में महिला अफसर हेलीकॉप्टर उड़ाती नजर आएगी। एक अफसर ने कहा कि कुल 15 महिलाओं ने आर्मी एविएशन में सम्मिलित होने की इच्छा व्यक्त की थी। इनमें से दो को चुना गया है, जोकि देश के लिए गौरव की बात है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *