गोरखपुर (उत्तर प्रदेश): उत्तर प्रदेश पुलिस के विशेष कार्यबल (एसटीएफ) के साथ रविवार को मुठभेड़ में एक लाख रुपये का इनामी अपराधी मारा गया। पुलिस ने उसके पास से 32 बोर और 9 एमएम की 2 पिस्टल और 500 रुपये नकद बरामद किया है। गोरखपुर इकाई के विशेष कार्य बल के पुलिस उपाधीक्षक धर्मेश कुमार शाही ने बताया कि अंबेडकरनगर जिले के अलीगंज थाना क्षेत्र के मखदूम नगर का निवासी कुख्यात शूटर परवेज अहमद कई हत्या में वांछित था और अंबेडकरनगर जिले के माफिया डॉन मुबारक खान का दाहिना हाथ था।

उन्होंने बताया कि परवेज अहमद राज्य में जाली मुद्रा की तस्करी में भी शामिल था। शाही के अनुसार विशेष कार्य बल ने रविवार को पीपीगंज-सरहरी मार्ग पर चिउटहा-सरहरी पुल पर मोटरसाइकिल सवार दो अपराधियों को पकड़ने की कोशिश की तो अपराधियों ने पुलिस बल पर फायरिंग शुरू कर दी। उन्होंने बताया कि पुलिस की ओर से चलाई गई गोली परवेज को लगी जबकि दूसरा अपराधी फरार हो गया।

एसटीएफ के निरीक्षक एसपी सिंह ने बताया कि परवेज को मुठभेड़ में गोली लगने के बाद पुलिस उसे पीपीगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गई जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सिंह ने बताया कि परवेज नेपाल से काम करता था और उसके खिलाफ व्यापारियों से रंगदारी वसूलने की भी शिकायत मिली थी। रविवार को वह नेपाल से गोरखपुर किसी से मिलने आया था तभी पुलिस के साथ उसकी मुठभेड़ हो गयी।

उन्होंने बताया कि वर्ष 2018 में परवेज ने बहुजन समाज पार्टी के नेता जुगराम मेंहदी की हत्या कर फरार हो गया था। सिंह ने बताया कि इसके बाद उसके ऊपर एक लाख रुपये का इनाम रखा गया था।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *