सीएम ने कहा..*पर्यावरण के प्रति जागरूकता पैदा करने के लिए प्लास्टिक को प्रतिबंधित करने,अधिक से अधिक वृक्षारोपण करने के लिए आदरणीय प्रधानमंत्री ने एक अभियान प्रारम्भ किया, उसी अभियान का हिस्सा है कि जल की एक एक बूंद,को संरक्षित करना और उसका पर्यावरण के लिए उपयोग कर लेना।प्रदेश सरकार ने विगत 4 वर्षों के दौरान,पर्यावरण की सुरक्षा के लिए अनेक कार्यक्रम किये,पहले वर्ष 2017 में 5 करोड़ वृहद वृक्षारोपण का लक्ष्य रखा,दूसरे वर्ष 11 करोड़ वृक्षारोपण कार्यक्रम सम्पन्न हुआ, 2019 में प्रदेश ने 22 करोड़ वृक्षारोपण के लक्ष्य को प्राप्त किया,और पिछले वर्ष कोरोना के बावजूद प्रदेश में 25 करोड़ वृक्षारोपण कार्यक्रम पूरा हुआ….!इसवर्ष भी हमने लक्ष्य रखा है , वन महोत्सव का कार्यक्रम जुलाई पहले हफ्ते से शुरू होगा, जिसमे 30 करोड़ वृक्षारोपण का लक्ष्य है….वन विभाग के साथ प्रदेश के सभी सम्बंधित विभाग,सभी शिक्षण,प्रशिक्षण संस्थाएं,ग्राम पंचायतें, नगर निकाय,तथा जनता भी इस कार्यक्रम से जुड़ती है…प्रकृति संरक्षण का कार्यक्रम उन्ही के द्वारा पूरा होता है…!ये अभियान उसी श्रृंखला का हिस्सा है,वन विभाग प्रकृति संरक्षण के लिए जागरूक होकर कार्य कर रहा है..हम सब तभी तक सुरक्षित हैं,जबतक हमारा पर्यावरण सुरक्षित है…प्रकृति और पर्यावरण के बीच हमे समन्वय रखना पड़ेगा…ये हम सबका नैतिक दायित्व भी है और कर्त्तव्य भी….!इसीलिए प्रदेश सरकार ने प्रदेश के अंदर, प्लास्टिक को भी प्रतिबंधित किया है….क्योंकी पर्यावरण के लिए ये एक खतरनाक संकेत है…उसी चीज को ध्यान को रखकर हमने इसे प्रदेश ने लागू किया है…..!!मुझे विश्वास है वन महोत्सव केअवसर पर जुलाई पहले सप्ताह में,प्रदेश में वृहद वृक्षारोपण का जो कार्यक्रम चलेगा, वो कोरोना महामारी से बचाव करते हुए, प्रोटोकॉल का पालन करते हुए प्रत्येक व्यक्ति, वृक्षारोपण के अभियान के साथ जुड़ेगा…!!हमने पिछले वर्ष वन विभाग को एक और लक्ष्य दिया था, कि 100 वर्ष से अधिक के जितने पेड़ हैं,उन्हें हेरिटेज वृक्ष के रूप में संरक्षित किया जाए, इसका अभियान जारी रहेगा, ये औपचारिक न हो, बल्कि वृक्षों को हम महत्व दें जिनका प्रकृति की सुरक्षा में योगदान है, जैसे पीपल,बरगद,पाकड़,देसी आम या इस तरह के अन्य औषधीय वृक्ष हैं..इन्हें हम संरक्षित करने के प्रयास में हैं…..!!जब जुलाई प्रथम सप्ताह में ये अभियान चलेगा तो हम संरक्षण के वृहद अभियान मे सफ़ल होंगे……!!

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *