छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की राह पर चलते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्य में होने वाले टीकाकरण के सर्टिफिकेट से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर को हटा दिया है। अब सर्टिफिकेट में ममता बनर्जी की फोटो लगाई जा रही है। ममता की फोटो से पहले उस जगह पीएम मोदी की फोटो लगाई जा रही थी, जिसमें मैसेज लिखा था कि दवाई भी और कड़ाई भी। 

बंगाल में तीसरे फेज का वैक्सीनेशन शुरू होने के बाद से पीएम मोदी की फोटो सर्टिफिकेट से हटा ली गई। इस फेज में 18-44 वर्ष की उम्र वाले लोगों कोरोना का टीका लगाया जा रहा है। मोदी की फोटो हटाकर खुद की फोटो सर्टिफिकेट पर लगाना काफी अहम माना जा रहा है। दरअसल, पिछले कुछ सालों में ममता बनर्जी और पीएम मोदी के बीच रिश्तों में कथित रूप से खटास आई है। हाल में बंगाल चुनाव के दौरान भी पीएम मोदी और ममता बनर्जी के बीच तीखी बयानबाजी देखी गई थी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फोटो की जगह मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की फोटो वाला सर्टिफिकेट सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। हाल ही में तृणमूल कांग्रेस ने चुनावों के दौरान भी पीएम मोदी की सर्टिफिकेट पर फोटो को लेकर चुनाव आयोग का दरवाजा खटखटाया था। टीएमसी ने आरोप लगाया था कि पीएम मोदी की फोटो चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन है। साथ ही ममता लगातार केंद्र सरकार पर टीकों के बंटवारे पर पक्षपात का आरोप भी लगाती रही हैं। ममता बनर्जी का कहना था कि केंद्र सरकार उन्हें जरूरत के अनुसार टीके मुहैया नहीं करवा रही है। वहीं, उन्होंने सरकार से फ्री में वैक्सीन उपलब्ध करवाने की भी मांग की थी।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *