केरल और लक्षद्वीप को भिगोने के बाद मानसून कर्नाटक पहुंच गया है। अगले दो से तीन दिनों के भीतर पूरे कर्नाटक में मानसून पहुंचने की संभावना है। दक्षिणी और उत्तरी कर्नाटक के साथ तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश के कुछ हिस्सों में भी बारिश हो रही है। वहीं अगले कुछ दिनों में देश के प्रमुख राज्यों में भी यह दस्तक दे देगा। यूं तो केरल में 3 जून को ही मानसून पहुंच गया था, लेकिन ज्यादातर हिस्सों में 4 जून से बारिश होनी शुरू हुई थी। 

केरल और लक्षदीप में पिछले 24 घंटे से रुक-रुक कर बारिश हो रही है।  मौसम विभाग (IMD) ने केरल में 12 घंटों के भीतर भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। पिछले 24 घंटों में केरल के त्रिशूर में 11 सेमी, कोच्चि में 9 सेमी, कोझीकोड में 7 सेमी, वक्कड़ (मल्लपूरम जिला) में 16 सेमी, कोन्नी और कांजीरापल्ली (कोट्टायम जिला) में 14 सेमी, पुंजर और कोन्नी में 13 सेमी बारिश दर्ज की गई है। मौसम विभाग का कहना है कि बारिश का सिलसिला अगले कुछ दिनों तक जारी रह सकता है। देश के अन्य राज्यों में भी प्री मानसून बारिश हो रही है। 

मध्यप्रदेश में 20 जून को तो राजस्थान में 25 जून को आएगा मानसून
मौसम विभाग की मानें तो मानसून मध्य प्रदेश में 20 जून को पहुंच जाएगा तो राजस्थान में 25 जून तक पहुंच सकता है। मध्यप्रदेश में प्री-मानसून बारिश शुरू हो गई है। पिछले 4 दिनों से कई जिलों में शाम से समय बारिश जारी है। गुरुवार को इंदौर में अचानक से काले घने बादल छाए। कई जिलों में बारिश जारी है।  वहीं राज्य में इस बार मानसून समय से चार दिन पहले आ सकता है। इस बार मानसून 25 जून तक राजस्थान पहुंच सकता है, पिछली बार 30 जून को राज्य में मानसून की पहली बारिश आई थी। मौसम विभाग ने इस बार प्रदेश में सामान्य से 6 फीसदी ज्यादा बारिश होने की आशंका जताई है। 

देश के प्रमुख राज्यों में  इस दिन आएगा मानसून
 10 जून: महाराष्ट्र 
 11 जून: तेलंगाना
 12 जून: पश्चिम बंगाल
 13 जून: ओडिशा
 14 जून: झारखंड
 16 जून: बिहार और छत्तीसगढ़
 20 जून: मध्यप्रदेश, उत्तराखंड और गुजरात
 22 जून: उत्तर प्रदेश
 24 जून: हिमाचल प्रदेश
 25 जून: राजस्थान
 27 जून: दिल्ली और हरियाणा
28 जून: पंजाब

हरियाणा में जून के आखिरी हफ्ते में बारिश आने की संभावना
मौसम विभाग के मुताबिक हरियाणा में मानसून समय से पहले ही दस्तक दे सकता है। राज्य में जून के आखिरी सप्ताह या जुलाई के पहले सप्ताह में मानसून पहुंचेगा। मानसून में प्रदेश में जून से सितंबर तक औसतन अच्छी बारिश होती है, लेकिन  2018 में 415 मिलीमीटर तक बारिश हुई थी। जोकि पहले की अपेक्षा कम हुई थी।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *