विश्व पर्यावरण दिवस 2021 दुनिया भर में ”पारितंत्र/ प्रकृति संरक्षण” की थीम के साथ मनाया जा रहा है, जिसका उद्देश्य हर महाद्वीप और हर महासागर में प्रकृति/ पारितंत्र के पतन को रोकना और इस प्रक्रिया को उत्क्रमित करना है। इसलिए “पुनरकल्पना, पुनरुत्थान और संरक्षण”, यह पर्यावरण दिवस मनाने का नारा हैं। इस थीम में योगदान देते हुए फिल्म प्रभाग, 5 और 6 जून, 2021 को “प्रकृति के संग : पर्यावरण पर फिल्मोत्सव ” की ई-स्क्रीनिंग के साथ विश्व पर्यावरण दिवस मना रहा है।

“प्रकृति के संग” की 2-दिवसीय विशेष स्क्रीनिंग में छह फिल्में शामिल होंगी जो पर्यावरण का पुनरुज्जीवन करने और प्रकृति के सह-अस्तित्व को फिर से परिभाषित करने का मजबूत संदेश देती हैं, जिसमें मानव और प्रकृति के अविभाज्य संबंध का पुनरुत्थान करने के लिए विभिन्न तरीकों का सुझाव दिया गया है। यह ई-स्क्रीनिंग फिल्म प्रभाग की वेबसाइट और यू-ट्यूब चैनल पर की जाएगी।

पॅकेज में स्क्रींनिग हो रही फिल्में हैं – द जंगल मैन लोईया (21 मिनट / अंग्रेजी / 2018 / फरहा खातून), लिविंग विथ नैचुरल वे (76 मिनट / अंग्रेजी / 2015 / संजीब पारासर), सालुमरादा थिमक्का – द ग्रीन क्रूसेडर (43 मिनट / कन्नडा/ 2019 / पी. राजेंद्रन) , क्लाइमेट चेंज (14 मिनट / अंग्रेजी- हिन्दी / 2019 / पी. एलप्पन), माय सन निओ ( १५ मिनिट / अंग्रेजी / 2021 / एस षन्मुगनाथन ), प्लास्टिक वर्ल्ड (7 मिनट / संगीत / 2017 / पौशाली गांगुली)।

फिल्म प्रभाग ने कई वर्षों से पर्यावरण के पुनरूत्थान तथा संरक्षण के लिए प्रभावी संदेश के साथ जागरूकता पैदा करने वाली वृत्तचित्रों का निर्माण करने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। इन फिल्मों को देखने के लिए फिल्म प्रभाग की वेबसाइट https://filmsdivision.org/पर लॉग ऑन करें और ‘डॉक्युमेंट्री ऑफ द वीक’ पर क्लिक करें या फिर फिल्म प्रभाग के यूट्यूब चैनल https://www.youtube.com/user/FilmsDivision पर इन फिल्मों का अनुसरण करें।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *