क्रिकेट के मक्का कहे जाने वाले लॉर्ड्स के मैदान पर न्यूजीलेंड के बल्लेबाज डेवोन कॉनवे ने डेब्यू टेस्ट में इतिहास रच दिया। इस मैदान में डेब्यू मैच में डबल सेंचुरी ठोकने वाले वो दुनिया के पहले बल्लेबाज बने। इंग्लैंड के साथ खेली जा रही दो टेस्ट मैचों की सीरीज के पहले टेस्ट मैच के दूसरे दिन उन्होंने ये कारनामा किया। डेवोन कॉनवे ने के लिए लॉर्ड्स का मैदान ड्रीम डेब्यू साबित हुआ। पहले टेस्ट में लॉर्ड्स में डबल सेंचुरी ठोकने के साथ ही उन्होंने एक और रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया।

इंग्लैंड में डेब्यू टेस्ट मैच में दोहरा शतक लगाने वाले कॉनवे दुनिया के पहले बल्लेबाज बन गए हैं। इंग्लैंड की धरती पर जो कमाल बड़े बड़े दिग्गज और महान बल्लेबाज नहीं कर पाए वो कॉनवे ने कर दिखाया। कॉनवे ने शानदार अंदाज में सिक्स मारकर अपनी डबल सेंचुरी पूरी की। हालांकि वो 200 रन के स्कोर को आगे नहीं बढ़ा पाए और रन आउट हो गए। कॉनवे ने 347 बॉल में 22 चौके और एक छक्के की मदद से 200 रन बनाए। अपने टेस्ट डेब्यू में कॉनवे ने कई रिकॉर्ड बनाए। उन्होंने गुरुवारको केएस रंजीतसिंहजी का 125 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ा। रंजीतसिंहजी ने साल 1896 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने डेब्यू मैच में 154 रन बनाए थे।

उनकी बेहतरीन पारी की बदौलत न्यूजीलैंड ने पहली पारी में 378 रन बनाए। न्यूजीलैंड के डेवोन कॉनवाय टेस्ट डेब्यू मैच में दोहरा शतक बनाने वाले न्यूजीलैंड के दूसरे और दुनिया के छठे खिलाड़ी बन गए हैं। न्यूजीलैंड के सिंक्लेयर ने साल 1999 में वेस्टइंडीज के खिलाफ वेलिंग्टन में 214 रन बनाए थे। इससे पहले डेवोन कॉनवे ने लॉर्ड्स टेस्ट के पहले दिन भारतीय टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली का 25 साल पुराना रिकॉर्ड भी तोड़ा। गांगुली ने अपने डेब्यू टेस्ट में साल 1996 में लॉर्ड्स मैदान में 131 रन बनाए थे।कॉनवे ने पहले दिन नाबाद 136 रन बनाए थे। वहीं डेब्यू टेस्ट में 150 रन बनाने वो वाले न्यूजीलैंड के तीसरे खिलाड़ी बन गए हैं। डेब्यू मैच की पहली ही पारी में शतक शतक बनाने वाले कॉनवे न्यूजीलैंड के 12वें बल्लेबाज हैं। 

 वहीं मैच की बात करें तो इंग्लैंड की तरफ से डेब्यू कर रहे ओली रोबिंसन ने सबसे अधिक चार विकेट लिए। उनके अलावा जेम्स एंडरसन ने 2 विकेट और मार्क वुड ने 3 विकेट लिए। गौरतलब है कि कॉनवे ने लिमिटेड ओवरों की सीरीज में बांग्लादेश के खिलाफ इंटरनेशनल क्रिकेट में अपना डेब्यू किया था। उन्होंने अपने दम पर न्यूजीलैंड को दो मैच जिताए। तीसरे वनडे में उन्होंने 126 रन बनाए। वहीं पहले टी20 में उन्होंने 52 गेंदों में 92 रनों की पारी खेली थी।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *