अलीगढ़ जिले में जहरीली शराब पीने से लोगों की मौत का सिलसिला रविवार को भी नहीं थमा। मरने वालों की संख्या बढ़कर 64 तक पहुंच गई।

शराब कांड में शुक्रवार सुबह से आज दोपहर 3 बजे तक पोस्ट मार्टम केंद्र पर कुल  64 शव आ चुके हैं। लेकिन जिला प्रशासन आंकड़े छिपाने में जुटा है। वहीं, भाजपा सांसद सतीश गौतम ने जिला अधिकारी पर गंभीर आरोप लगाए हैं। इसके अलावा पोस्टमार्टम हाउस के प्रभारी को हटा दिया गया है। 

जानकारी के अनुसार, शराब कांड में शनिवार रात 2 बजे तक पोस्टमार्टम केंद्र पर 51 शव पहुंचे थे। आज यानि रविवार दोपहर 3 बजे तक 64 शव पोस्टमार्टम के लिए पहुंचे हैं। हालांकि प्रशासन अभी 25 लोगों की शराब से मौत होने की पुष्टि कर रहा है। 

बता दें कि शनिवार रात दो बजे तक ही 56 की मौत हो गई थी। 18 लोग अस्पताल में भर्ती थे। इनमें से कई की हालत नाजुक बनी हुई थी।शनिवार रात तक 48 ग्रामीणों के पोस्टमार्टम हो जाने के बाद भी जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह देर रात 25 लोगों की मौत की ही पुष्टि कर रहे थे। हालांकि, सांसद सतीश गौतम ने शनिवार दोपहर में पोस्टमार्टम केंद्र पहुंचकर 35 मौत होने की पुष्टि की थी।

पुलिस ने शराब तस्कर गिरोह से जुड़े छह लोगों को गिरफ्तार कर शनिवार शाम जेल भेज दिया। इनमें जवां की पूर्व ब्लॉक प्रमुख रेणु शर्मा के अलावा रालोद नेता अनिल चौधरी शामिल हैं। वहीं, 50 हजार के इनामी रेणु के पति ऋषि शर्मा व उसके साथी विपिन यादव की तलाश चल रही है।

गांव-गांव जाकर शराब से हुई मौतों की गिनती की-सांसद
वहीं, भाजपा सांसद सतीश गौतम ने जिला अधिकारी पर आरोप लगाए हैं उन्होंने शराब से मौत की घटना का जिम्मेदार जिलाधिकारी को बताया है। सांसद का दावा है कि शनिवार तक 35 मौत हो चुकीं थीं। जिला प्रशासन ने उस समय जनपद में 25 मौत होने का दावा किया था। 

सांसद का कहना है कि जिला प्रशासन मामले को छिपाने में जुटा है। सांसद ने कहा है कि अब रिपोर्ट शासन को भेजेंगे। दो दिन में जिला प्रशासन के बड़े अधिकारियों पर कार्रवाई हो सकती है। उन्होंने कहा कि गांव-गांव जाकर शराब से हुई मौतों की गिनती की है। 

पोस्टमार्टम हाउस के प्रभारी पर गिरी गाज
वहीं, मृतकों के परिवार वालों से बदसलूकी करने के आरोप में पोस्टमार्टम हाउस के प्रभारी रविकांत दीक्षित पर गाज गिर गई है। रविवार को सांसद सतीश गौतम पोस्टमार्टम हाउस पर पहुंचे। उन्होंने यहां मीडिया को बयान दिया कि रविकांत दीक्षित की परिजनों के साथ बदतमीजी करने की शिकायत मिली थी। इस मामले में डीएम व सीएमओ को शिकायत की गई उन्होंने तत्काल प्रभाव से इसे हटाने के निर्देश दिए हैं।

24 घंटे बाद निलंबित हुआ थाना प्रभारी
एसएसपी कलानिधि नैथानी ने एसओ लोधा अभय शर्मा को निलंबित करते हुए पुलिस स्तर से हुई लापरवाही की जांच एसपी क्राइम राजेश श्रीवास्तव को सौंपी है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *