सोशल मीडिया पर हर रोज करोड़ों पोस्ट होते हैं जिनमें से कुछ फर्जी होते हैं और कुछ सच भी होते हैं। सोशल मीडिया कंपनियों के लिए फर्जी पोस्ट को हटाना एक बहुत मुश्किल काम होता है, हालांकि फेसबुक, ट्विटर और गूगल जैसी कंपनियों ने इसके लिए कुछ टूल तैयार किए हैं। फेसबुक पर ऐसे कई पोस्ट पड़े हैं जिनमें दावा किया गया है कि कोरोना वायरस लैब में ही तैयार हुआ है। पहले फेसबुक ऐसे पोस्ट को डिलीट करता था लेकिन अब फेसबुक ने अपनी पॉलिसी बदल दी है और ऐसे पोस्ट को हटाने से मना कर दिया है जिसमें दावा किया जा रहा है कि कोरोना वायरस मानव निर्मित है।

द हिल ने फेसबुक के प्रवक्ता के हवाले से यह रिपोर्ट प्रकाशित की है। द हिल से फेसबुक के एक प्रवक्ता ने कहा है कि कोरोना की उत्पति को लेकर चल रही जांच और एक्सपर्ट की राय के बाद हमने इस पर बैन नहीं लगाने का फैसला लिया है। अब हम किसी भी ऐसे पोस्ट को डिलीट नहीं करेंगे जिसमें यह कहा जा रहा होगा कि कोरोना की उत्पति लैब से हुई है। प्रवक्ता ने यह भी कहा है कि महामारी को लेकर हम स्वास्थ्य विशेषज्ञों से लगातार बात कर रहे हैं और अपनी पॉलिसी में बदलाव कर रहे हैं। बता दें कि इससे पहले कोरोना की लैब में उत्पति वाले पोस्ट को फेसबुक गलत मानता था और उसे हटा देता था।

बता दें कि पिछले साल दिसंबर में फेसबुक ने कहा था कि वह अपने प्लेटफॉर्म से उन सभी खबरों या पोस्ट को हटा देगा जिनमें वैक्सीन को लेकर गलत जानकारी होगी। हाल ही में कोरोना की लैब से उत्पति की रिपोर्ट सामने आई थी जिसके बाद अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने भी खुफिया एजेंसियों से कहा है कि वह जितना जल्द हो सके इसका पता लगाएं कि कोरोना वायरस की उत्पति कहां से और कैसे हुई थी।

यूएस फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफडीए) के पूर्व प्रमुख ने भी कहा है कि अभी तक जितने सबूत मिल रहे हैं वो इसी बात का इशारा कर रहे हैं कि चीन के वुहान में एक लैब में कोविड -19  उत्पन्न हुआ था, क्योंकि अभी तक इस बात की पुष्टि नहीं हो पाई है कि यह वायरस जानवर से इंसान में कैसे आया।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *