भुवनेश्वर: ओडिशा-आंध्र प्रदेश बॉर्डर के पास बड़ी दुर्घटना हो गई है. यहां सिलेरू नदी में नाव पलटने के चलते 8 प्रवासी श्रमिक लापता हो गए हैं, जबकि एक की मौत हो गई है. यह हादसा चित्रकोंड़ा पुलिस स्टेशन की सीमा के अंदर हुआ है. घटना के बाद से ही यहां बचाव अभियान शुरू हो गया है.

बताया जा रहा है चित्रकोंड़ा पुलिस स्टेशन की सीमा के भीतर सिलेरू नदी में अचानक नाव पलट गई, जिसमें 8 प्रवासी श्रमिक लापता हो गए जबकि एक का शव बरामद कर लिया गया है. 8 मजदूरों की खोज के लिए टीमों ने रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया है. हालांकि नाव क्यों पलटी, इस संबंध में अभी तक कोई जानकारी सामने नहीं आई है. वहीं दूसरी तरफ चक्रवाती तूफान ‘यास’ के खतरे के मद्देनज़र पश्चिम बंगाल और ओडिशा के तटीय क्षेत्रों से लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाए जाने की प्रक्रिया आरंभ हो चुकी है. बचाव और राहत टीमों को एक जगह से दूसरी जगहों पर भेजा जा रहा है. रक्षा विमानों और नेवी शिप्स को अलर्ट रखने के लिए कहा गया है.

मौसम विभाग ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में बनने वाला ‘कम दबाव का क्षेत्र’ अब ‘दबाव वाले क्षेत्र’ में  बदल गया है. तूफ़ान ‘यास’ के बुधवार को ओडिशा और पश्चिम बंगाल के पूर्वी तटीय इलाकों में दस्तक देने की आशंका है. ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक ने कहा कि राज्य भीषण चक्रवाती तूफान ‘यास’ से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है. यास 26 मई को बालासोर के समीप दस्तक दे सकता है. सीएम पटनायक ने ये भी कहा कि हम पूरी तरह तैयार हैं और हमारे अफसर, केंद्र सरकार के अधिकारियों के संपर्क में हैं.

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *