नारदा स्टिंग मामले के बाद पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ और ममता बनर्जी सरकार के बीच नोंकझोंक तेज हो गई है। टीएमसी के एक सांसद ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि जब जगदीप धनखड़ राज्यपाल के पद से हट जाएंगे तो वो उनके खिलाफ केस दर्ज करवाएंगे।

टीएमसी सांसद कल्याण बनर्जी ने जगदीप धनखड़ को जेल भिजवाने की धमकी दी है। कल्याण बनर्जी ने कहा कि हम जानते हैं कि उनके खिलाफ हम आपराधिक केस नहीं दर्ज करा सकते। उन्होंने कहा कि हम लोगों से अपील करते हैं कि वो उनके खिलाफ शिकायत दर्ज करवाएं, जहां वे हिंसा और अपराध को बढ़ावा दे रहे हैं। 

इतना ही नहीं कल्याण बनर्जी ने राज्यपाल को जेल भेजने की धमकी देते हुए कहा कि एक बार जब वो अपने पद से हट जाएंगे तब लोगों के शिकायत के आधार पर उनके खिलाफ केस दर्ज कराया जाएगा। उन्हें उसी प्रेसिडेंसी जेल में रखा जाएगा, जहां नारदा स्कैम के मामले में टीएमसी के विधायकों को रखा गया है। इसके अलावा कल्याण बनर्जी ने यह भी कहा कि चिंता ना करें, 2024 के बाद कई भाजपा नेताओं को जेल भेजा जाएगा। उन्होंने कहा कि भारत के लोग दूसरी आजादी का इंतजार कर रहे हैं।

राज्यपाल ने दी प्रतिक्रिया
हालांकि राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने इस बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि कल्याण बनर्जी का बयान हैरान करने वाला है। बता दें कि नारदा स्टिंग मामले को राज्यपाल ने सीबीआई को ट्रांसफर कर दिया था। इसके बाद ही बंगाल के दो मंत्रियों सुब्रत बनर्जी, फिरहाद हाकिम समेत चार नेताओं को अरेस्ट किया गया। 

क्या है नारदा घोटाला?
साल 2016 में बंगाल में विधानसभा चुनाव से पहले नारदा स्टिंग टेप सार्वजनिक किए गए थे। ऐसा दावा किया गया था कि ये टेप साल 2014 में रिकॉर्ड किए गए थे। इसमें टीएमसी के मंत्री, सांसद और विधायक की तरह दिखने वाले वयक्तियों को कथित रूप से एक काल्पनिक कंपनी के प्रतिनिधियों से कैश लेते दिखाया गया था। यह स्टिंग ऑपरेशन नारदा न्यूज पोर्टल के मैथ्यू सैमुअल ने किया था। साल 2017 में कलकत्ता हाईकोर्ट ने इन टेप की जांच का आदेश सीबीआई को दिया था। 

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *