कोरोना की वैक्सीन का प्रोडक्शन करने वाली कंपनी मॉडर्ना ने टीके खरीदने के पंजाब सरकार के अनुरोध को अस्वीकार कर दिया है। यह जानकारी रविवार को राज्य के नोडल अधिकारी विकास गर्ग ने दी। गर्ग ने बताया कि मॉडर्ना ने अपनी नीति का हवाला देते हुए राज्य सरकार को टीके भेजने से इनकार कर दिया है। 

मॉडर्ना ने कहा कि कंपनी केवल केंद्र के साथ ही सौदा कर सकती है न कि किसी राज्य सरकार या निजी पार्टियों के साथ। बयान के अनुसार पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की ओर से निर्देश मिलने के बाद राज्य ने स्पुतनिक वी, फाइजर, मॉडर्ना और जॉनसन एंड जॉनसन की वैक्सीन के लिए कंपनियों से संपर्क किया था। 

राज्य सरकार ने यह भी कहा कि पिछले तीन दिनों से टीके की अनुपलब्धता के कारण राज्य सरकार को टीकाकरण रोकने के लिए मजबूर होना पड़ा। बयान में आगे कहा गया है कि राज्य में टीकों की भारी कमी को पूरा करने के लिए सभी प्रयास किए जा रहे हैं। राज्य को भारत सरकार से अभी तक 44 लाख से भी कम वैक्सीन की खुराक मिली है।

पंजाब में कोरोना के फैलाव को रोकने के भरसक प्रयासों के बावजूद इस काम में उतनी कामयाबी हासिल नहीं हुई है लेकिन जनता के सहयोग से सरकार इस नियंत्रण पा लेगी। शनिवार को राज्य में एक दिन में कोरोना से 172 मरीजों की मौत हो गई। 

स्वास्थ्य विभाग की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक राज्य में शनिवार को 172 मरीजों की मौत के साथ अब तक कोरोना से मरने वालों की संख्या 12 हजार 888 तक पहुंच गई। वहीं, पांच हजार से अधिक पाजिटिव केस आने से अब राज्य में पाजिटिव मामले बढ़कर पांच लाख से अधिक हो गए और सक्रिय मरीज 63470 हो गए।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *