विशाखापत्तम: आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम के पास तटरक्षक बलों द्वारा समुद्र में मछली पकड़ने वाले मछुआरों को चक्रवाती तूफान को लेकर सतर्क कर दिया गया है. इंडियन नेवी और तटरक्षक बल आंध्र प्रदेश के उत्तरी तटीय इलाकों से बंगाल की खाड़ी के समुद्र में मछली पकड़ने वाले मछुआरों को चक्रवाती तूफान की लगातार अलर्ट कर रहे हैं और समुद्र से वापस लौटने के लिए कह रहे हैं.

रक्षा मंत्रालय ने कहा कि भारतीय तटरक्षक बल ने पूर्वी तट पर ‘चक्रवाती तूफान यास’ (Cyclone Yaas) के मद्देनज़र एहतियाती कदम उठाए हैं, क्योंकि 22 मई को उत्तरी अंडमान सागर और इससे लगे पूर्वी मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बनने का अनुमान है. भारत के मौसम विभाग (IMD) ने जानकारी देते हुए बताया है कि दो दिनों में उत्तरी अंडमान सागर और उससे सटे पूर्वी मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बनने के पूरे आसार हैं.

इसके उत्तर-पश्चिम की तरफ बढ़ने और 24 मई तक एक चक्रवाती तूफान में तब्दील होने के भी आसार हैं, जिसे चक्रवात ‘यास’ नाम दिया जाएगा. इसको देखते हुए इंडियन कोस्ट गार्ड (ICG) ने पूर्वी तट पर एहतियाती उपाय करना आरंभ कर दिया है. बंगाल की खाड़ी में चक्रवाती तूफान ‘यास’, चक्रवात ‘Tauktae’ के अरब सागर से टकराने के कुछ दिनों बाद बन रहा है.

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *