हरियाणा में बीपीएल परिवारों को सरकार बड़ी राहत देने जा रही है। बीपीएल परिवार के कोरोना मरीजों के उपचार का सारा खर्च गठबंधन सरकार उठाएगी। पहले बीपीएल परिवार के मरीजों को 35 हजार तक की वित्तीय सहायता देने की घोषणा की गई थी।

मुख्यमंत्री ने कोरोना की स्थिति पर प्रशासनिक सचिवों व सभी डीसी के साथ समीक्षा बैठक में यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि ब्लैक फंगस बीमारी के उपचार के लिए हर मेडिकल कॉलेज में कम से कम 20 बेड रिजर्व रखे जाएं। गांवों में डोर-टू-डोर दौरा करने वाली टीमों में शामिल सदस्यों का प्राथमिकता से टीकाकरण करें। कोविड-19 के बाद होने वाली समस्याओं के समाधान के लिए विशेष क्लीनिक बनाए जाएं।

सीएम ने कहा कि अब तक लगभग 10 हजार ऑक्सीजन सिलिंडर होम आईसोलेशन मरीजों के घर पर पहुंचाए गए हैं। बहु विषयक टीमों ने 4097 गांवों का दौरा कर साढ़े 47 लाख से ज्यादा लोगों के स्वास्थ्य की जांच की है। अब तक हरियाणा में 51 लाख से अधिक लोगों को कोविड-19 के टीके लगाए हैं।

उन्होंने कहा कि निजी अस्पतालों द्वारा बनाए जा रहे बिलों पर  निगरानी रखें ताकि आमजन को किसी प्रकार की दिक्कत न हो। सभी जरूरतमंदों को सरकार की घोषणा के अनुरूप सभी जिलों में 5 किलो प्रति व्यक्ति राशन देना सुनिश्चित करें। कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए आंदोलनकारी किसानों से बातचीत कर कोरोना के खतरे से अवगत करवाएं।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *