रालोद सुप्रीमो चौधरी अजित सिंह का गुरुवार को निधन ही गया। बीमारी के चलते वे गुरुग्राम के अल्ट्रा मैक्स अस्पताल में भर्ती थे,जहा पर गुरुवार की सुबह उन्होंने अंतिम सांस ली। चौधरी साहब कोरोना संक्रमित थे। उनके देहांत से क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उनके निधन पर शोक व्यक्त किया है।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने ट्विट किया- पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं जुझारू किसान नेता चौधरी अजित सिंह जी का निधन अत्यंत दुःखद है। उन्हें विनम्र श्रद्धाजंलि। प्रभु श्री राम से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्मा को अपने परम धाम में स्थान व शोकाकुल परिजनों को यह अथाह दुःख सहने की शक्ति प्रदान करें। ॐ शांति

उत्तर प्रदेश के मेरठ में जन्मे चौधरी अजित सिंह गिनती बड़े जाट नेताओं में होती थी। यूपी के बागपत जिले से 7 बार सांसद थे। इतना ही नहीं वह केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री रह चुके हैं। अजित सिंह का दबदबा पश्चिमी उत्तर प्रदेश में काफी ज्यादा देखने को मिलता रहा है। वे जाटों के बड़े नेता माने जाते रहे हैं। वे कई बार केंद्रीय मंत्री भी रहे हैं। पिछले 2 लोकसभा चुनाव और 2 विधानसभा चुनाव के दौरान राष्ट्रीय लोकदल का ग्राफ तेजी से गिरा। यही वजह है कि वे अपने गढ़ बागपत से भी लोकसभा चुनाव हार गए। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *