बिहार में corona virus के मामलों में हो रही बेतहाशा वृद्धि को रोकने के लिए नीतीश कुमार सरकार ने 15 मई तक लॉकडाउन लागू कर दिया है। हालांकि सरकार का कहना है कि बेहद जरूरी काम के लिए लोगों को छूट दी जाएगी और इसके लिए उन्हें ई-पास लेना होगा। लोग ई-पास को लेने के लिए कैसे-कैसे हथकंडे अपना रहे हैं इसका उदाहरण पूर्णिया के डीएम राहुल कुमार ने ट्वीट करके दिया है।

डीएम राहुल कुमार ने ट्वीट कर लिखा, ‘लॉकडाउन के दौरान ई-पास जारी करने के लिए हमारे पास आने वाले अधिकतम आवेदन सही होते हैं लेकिन फिर हमें कुछ इस तरह के आवेदन मिलते हैं। भाई, आपके पिंपल्स का इलाज अभी प्रतीक्षा कर सकता है।’ दरअसल, डीएम ने अपने ट्वीट के साथ एक आवेदन जारी किया है जिसमें बीमारी के तौर पर चेहरे और माथे पर पिंपल बताए गए हैं।

इसपर तंज कसते हुए राहुल कुमार ने कहा कि आपके पिंपल का इलाज प्रतीक्षा कर सकता है। बता दें कि कोरोना वायरस के मामलों के देखते हुए राज्य सरकार ने लॉकडाउन की घोषणा की है। मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील की है कि संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए सभी नियमों का पालन करें। यदि हो सके तो शादी-विवाह जैसे शुभ कार्यों को कुछ समय के लिए स्थगित कर दें।

एक दिन में मिले 14816 नए कोरोना संक्रमित
राज्य में 14,816 नए कोरोना संक्रमितों की पहचान बुधवार को हुई। पिछले 24 घंटे में 95,248 सैंपल की कोरोना जांच की गई। राज्य में कोरोना संक्रमण की दर 15.55 फीसदी रही। जबकि एक दिन पूर्व राज्य में 94,891 सैंपल की जांच में 14,794 नए कोरोना संक्रमित मिले थे और संक्रमण की दर 15.59 फीसदी रही थी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *