लखनऊ: देश में कोरोना महामारी के लगातार बढ़ रहे संक्रमण के बीच भारत सरकार ऑक्सीजन की किल्लत दूर करने और उसकी सहज उपलब्धता सुनिश्चित करने की लगातार कोशिश कर रही है। इसी कड़ी में केंद्र ने उत्तर प्रदेश सरकार को 37 जिलों में ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने को स्वीकृति दे दी है।

केंद्र सरकार से अनुमति मिलने के बाद उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को जल्द से जल्द से इन संयंत्रों की स्थापना करने का निर्देश दिया है। सीएम योगी ने कहा है कि हमारा टारगेट ऑक्सीजन उत्पादन को 743 टन प्रतिदिन से बढ़ाकर 800 टन से ज्यादा करने का है। उन्होंने बताया कि IIT कानपुर, बीएचयू, एकेटीयू, एमएमटीयू गोरखपुर और प्रयागराज का मोतीलाल नेहरू रीजनल इंजीनियरिंग कॉलेज सभी जिलों में ऑक्सीजन की माँग तथा सप्लाई की ऑडिट करेगा ताकि ऑक्सीजन की रियल टाइम मॉनिटरिंग की जा सके।

इसके साथ ही सीएम योगी ने यह भी कहा है कि रेलवे और वायु सेना के जरिए ऑक्सीजन के खाली टैंकरों का परिवहन किया जा रहा है। ऑक्सीजन एक्सप्रेस के जरिए भरे हुए टैंकर राज्य में लाए जा रहे हैं। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि सभी जिलों में 4370 ऑक्सीजन कॉन्संट्रेटर मुहैया कराए गए हैं, जिससे हर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को 20 ऐसे ऑक्सीजन कॉन्संट्रेटर मिले हैं।     

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *