केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी और पृथ्वी विज्ञान मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कल वित्त और कॉरपोरेट मामलों के राज्यमंत्री श्री अनुराग ठाकुर की उपस्थिति में एक वेबिनार के जरिए चंडीगढ़, पंजाब, हरियाणा और हिमाचल प्रदेश में 13 अलग – अलग स्थानों पर रक्तदान शिविर की एक श्रृंखला का उद्घाटन किया।

कोविड महामारी के कारण रक्त की जरूरतों को पूरा करने के मद्देनजर इन रक्तदान शिविरों का आयोजन कम्पीटेंट फाउंडेशन द्वारा विभिन्न संघों, गैर सरकारी संगठनों और ब्लड बैंकों के सहयोग से किया जा रहा है।

वेबिनार को संबोधित करते हुए, केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कोविड महामारी के कारण रक्त की जरूरतों को पूरा करने के उद्देश्य से और अधिक शक्ति एवं प्रसार के साथ रक्तदान शिविर आयोजित करने के फाउंडेशन के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि व्यक्तिगत रूप से एक रक्तदाता के लिए रक्तदान करने के कई फायदे हैं, जबकि पूरी मानवता के लिए यह एक बड़ी मदद है। इस महान कार्य के लिए अधिक से अधिक लोगों को आगे आने का आह्वान करते हुए डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि लोग अपने जन्मदिन पर वर्ष में कम से कम एक बार रक्तदान जरूर करें क्योंकि यह मानवता के लिए एक बड़ी मदद है। उन्होंने कहा कि उनकी राय में, पूजनीय धार्मिक स्थलों में जाने की तुलना में रक्तदान करना अधिक पवित्र है।

केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने जनवरी, 2021 में दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान शुरू किया था। इस टीकाकरण अभियान को अब और तेज किया जा रहा है क्योंकि 1 मई से युवाओं का टीकाकरण शुरू होने वाला है। उन्होंने यह भी कहा कि 2021 में, देश 2020 तक की तुलना में इस महामारी को मात देने के लिए अधिक अनुभव के साथ मानसिक और भौतिक रूप से बेहतर तरीके से तैयार है। उन्होंने इस तथ्य की सराहना की कि इन रक्तदान शिविरों की स्थापना सभी कोविड प्रोटोकॉल, दिशानिर्देशों और एसओपी के पालन के बाद की गई है। उन्होंने कहा कि रक्तदान के इस अभियान का आयोजन युवाओं के टीकाकरण से पहले किया जाना सराहनीय है क्योंकि टीकाकरण के बाद 2 महीने तक रक्तदान नहीं करना उचित है।

कम्पीटेंट फाउंडेशन के अध्यक्ष श्री संजय टंडन ने कहा कि इस वर्ष फाउंडेशन ने कोविड महामारी के दौरान रक्त की जरूरतों को पूरा करने के मद्देनजर चंडीगढ़ ट्राइसिटी से परे विभिन्न क्षेत्रों में 13 अलग-अलग स्थानों पर रक्तदान शिविर आयोजित करने का निर्णय लिया। उन्होंने लोगों से अपील की कि कोरोना महामारी के दौरान रक्तदान और अधिक महत्वपूर्ण हो गया है क्योंकि इस गहराते संकट के बीच रक्त की आपूर्ति अत्यंत कठिन हो गई है। इसलिए उन्होंने लोगों, विशेष रूप से युवाओं,से इस महान कार्य का हिस्सा बनने का आह्वान किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *