नई दिल्‍ली। देश में कोरोना से होने वाली मौतों की संख्‍या में लगाजार बढ़ोत्तरी हो रही है। आए दिन बेड और ऑक्‍सीजन की कमी से मरीज दम तोड़ रहे हैं। इसे देखते हुए सरकार ने फैसला लिया है कि वो ऑक्‍सीजन की कमी से निबटने के लिए इसका इंपोर्ट करेगी। फिलहाल जो फैसला किया गया है उसके मुताबिक 50 हजार मीट्रिक टन मेडिकल ऑक्सीजन इंपोर्ट किया जाएगा। जानकारी के मुताबिक सरकार ने अब वैसे 12 राज्‍यों की पहचान करने पर काम शुरू कर चुकी है जहां ऑक्‍सीजन की जरूरत सबसे ज्‍यादा है।

जानकारी के मुताबिक पीएम केयर्स फंड के तहत देश के 100 नए अस्‍पताल बनाए जा रहे हैं जिनमें उनके अपने ऑक्‍सीजन प्‍लांट लगे होंगे। दिल्ली में गुरुवार को हुई EG2 की बैठक में देश में अनिवार्य मेडिकल उपकरणों और ऑक्सीजन की उपलब्धता पर चर्चा की गई। 

बैठक में तीन बड़े फैसले लिए गए जिनमें पहला यह था कि सबसे ज्‍यादा प्रभावित 12 राज्‍यों में ऑक्‍सीजन की उपलब्‍धता की जाएगी। ऐसा इसलिए क्‍योंकि गंभीर कोरोना मरीजों का जीवन बचाने में मेडिकल ऑक्सीजन बहुत जरूरी होती है।

ये हैं वो राज्‍य जहां तांडव मचा रहा है कोरोना

महाराष्ट्र,गुजरात,उत्तर प्रदेश,दिल्ली,छत्तीसगढ़,कर्नाटक,मध्य प्रदेश,केरल,तमिलनाडु,पंजाब,हरियाणा,राजस्थान |

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed