कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों से पूरे देश में एक बार फिर से दहशत का माहौल है। हर दिन सामने आने वाले कोरोना मामले कोई न कोई रिकॉर्ड तोड़ रहे हैं। इस बीच महाराष्ट्र के नांदेड़ जिले से एक बहुत ही दुखद खबर सामने आई है। पुलिस ने गुरुवार को बताया कि महाराष्ट्र के नांदेड़ जिले में कोरोना वायरस के कारण पति की मौत के बाद एक 33 वर्षीय महिला ने कथित तौर पर एक झील में डूबकर अपनी जान दे दी।

एक अधिकारी ने कहा कि महिला के तीन साल का बेटा भी उसका पीछा करते हुए लोहा के सुनेगांव झील में चला गया, जिसके कारण झील में डूबकर उसकी भी मौत हो गई। यह घटना बुधवार रात को हुई। पुलिस के मुताबिक, तेलंगाना का एक 40 वर्षीय मजदूर काम की तलाश में नांदेड़ शहर से 40 किलोमीटर दूर स्थित लोहा में आया था और कोरोना वायरस से संक्रमित हो गया था।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि कोरोना वायरस से संक्रमित होने के कारण 13 अप्रैल को एक सरकारी अस्पताल में इस व्यक्ति की मौत हो गई थी। इसके बाद कथित तौर पर उसकी पत्नी ने भी झील में डूबकर अपनी जान दे दी। दंपति के तीन बच्चे हैं, और उनमें से  तीन साल का एक लड़का, अपनी मां के साथ झील में चला गया और इस प्रक्रिया में डूबकर उसकी भी मौत हो गई। पुलिस को इस मामले की जानकारी गुरुवार सुबह में मिली।

आपको बता दें कि महाराष्ट्र में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं और यह राज्य फिलहाल पूरे देश में कोरोना का गढ़ बन चुका है। महाराष्ट्र में बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 58,952 नये मामले सामने आये, जबकि 278 और संक्रमितों की मौत हो जाने से कुल मृतक संख्या बढ़ कर 58,804 पहुंच गई। राज्य स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी। कोविड-19 के मामले काफी तेजी से बढ़ने और चिंताजनक हालात को देखते हुए राज्य सरकार ने बुधवार रात आठ बजे से 15 दिनों के लिए सख्त प्रतिबंध लगाने की एक दिन पहले घोषणा की थी। ये प्रतिबंध एक मई सुबह सात बजे तक रहेंगे।

इसके अलावा पूरे देश की बात करें, तो देश में कोरोना का कहर कितना विकराल हो चुका है, इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि अब एक दिन में नए संक्रमण मरीजों का आंकड़ा दो लाख तक पहुंच गया है। भारत में बुधवार को कोरोना वायरस के करीब दो लाख नए पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। वहीं, मौत के मामलों में भी लगातार इजाफा देखने को मिल रहा है। इस तरह से कोरोना की दूसरी लहर लगातार नए-नए रिकॉर्ड स्थापित कर रही है, जो डरावनी तस्वीर पेश कर रही है। 

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में बुधवार रात तक संक्रमण के 199,569 नए मामले दर्ज किए गए। यह महामारी की शुरुआत से लेकर अब तक एक दिन में मिलने वाले नए कोरोना संक्रमितों का सर्वाधिक आंकड़ा है। पहली लहर में भी कोरोना का यह विकराल रूप देखने को नहीं मिला था, जितना अब देखने को मिल रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, इस अवधि में 1037 लोगों की मौत हो गई। अब तक के कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 14070300 हो गई है। कोरोना से पीड़ित लोगों के ठीक होने की दर और गिरकर 89.51 प्रतिशत रह गई है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *