झांसी

यूपी के झांसी जिले में सीओ सदर के पद पर तैनात पीपीएस मनीष चंद्र सोनकर ने इस्‍तीफा दे दिया है। सीओ की पत्‍नी कोरोना पॉजिटिव हैं इसलिए उन्‍होंने अपनी 4 साल की बच्‍ची की देखभाल के लिए 6 दिन का अवकाश मांगा था। इस पर एसएसपी रोहन पी कनय ने इनकार कर दिया। प्रतिक्रिया में सीओ ने पद से इस्‍तीफा दे दिया। इस्‍तीफे बाद एसएसपी ने छुट्टी दे दी साथ ही इस्‍तीफे की संस्‍तुति कर उसे राज्‍यपाल को भेज दिया।

मनीष चंद्र सोनकर ने यूपी एटीएस में रहते हुए आतंकवादियों के खिलाफ कई बड़े ऑपरेशन किए हैं। वह आईएसआईएस के खुरासान मॉड्यूल और नक्‍सलियों के खिलाफ कई ऑपरेशन कर चुके हैं। इस्‍तीफे के बाद सोशल मीडिया पर सोनकर का एक पत्र वायरल हुआ है जिसमें उन्‍होंने एसएसपी पर अमानवीय व्‍यवहार का आरोप लगाया है।इस पत्र में सीओ ने लिखा है कि उनकी पत्‍नी कोरोना संक्रमित हो गई थीं, घर में 4 साल की अकेली बच्‍ची की देखभाल के लिए उन्‍हें 1 से 6 मई तक की छुट्टी चाहिए थी लेकिन उन्‍हें छुट्टी नहीं दी गई। उन्‍होंने एक दिन पहले आए फॉलोअर के सहारे बच्‍ची को छोड़ना उचित नहीं समझा। इस बीच 2 और 3 मई को उनकी ड्यूटी बड़ागांव मतगणना केंद्र पर लगा दी गई। फोन पर छुट्टी का आग्रह करने पर एसएसपी ने उनकी बात नहीं मानी तो सोनकर ने इस्‍तीफा दे दिया।

वहीं मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, इस मामले में एसएसपी रोहन पी कनय ने इसे मनचाहे फॉलोअर की सीओ के घर पर तैनाती और उसके सरकारी खजाने से भुगतान से जुड़ा मामला बताया। एसएसपी के अनुसार, 2 मई को मतगणना के दिन जब वह उच्‍चाधिकारियों समेत बड़ागांव सेंटर पहुंचे तो वहां सोनकर नहीं मिले और फोर्स भी बिखरी हुई थी। जब एसएसपी ने सोनकर से ड्यूटी पर आने को कहा तो उन्‍होंने इस्‍तीफा लिखकर वॉट्सऐप कर दिया।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed