दिल्‍ली के कोविड 19 के प्रकोप के चलते लगाए गए लॉकडाउन में आर्थिक तंगी से जूझ रहे गरीब तबके के लिए केजरीवाल सरकार ने मंगलवार को दो बड़े फैसले लिए. इसके तहत दिल्‍ली में करीब 72 लाख राशन कार्ड धारकों को दो महीने तक मुफ्त राशन दिया जाएगा. इसके अलावा केजरीवाल सरकार ने यह भी फैसला लिया है कि वह ऑटो-टैक्‍सी चालकों को 5-5 हजार रुपये की आर्थिक मदद भी देगी.

केजरीवाल द्वारा कहीं गई प्रमुख बातें…

-दिल्ली में लॉकडाउन लगाना बेहद जरूरी हो गया था, ताकि कोरोना के केसों में कमी आ सके, लेकिन लॉकडाउन गरीबों के लिए बड़ा आर्थिक संकट पैदा कर देता है. खासकर दिहाड़ी मजदूरों और उनके लिए जो रोज कमाते हैं और खाते हैं. इनके लिए घर चलाना भी मुश्किल हो जाता है.

-दिल्‍ली में करीब 72 लाख राशन कार्ड धारकों को अगले दो महीने तक फ्री में राशन दिया जाएगा, लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि लॉकडाउन दो महीने तक चलेगा. आर्थिक तंगी से जूझ रहे गरीब आदमी की मदद के लिए ऐसा किया गया है.

-साथ ही ऑटो और टैक्‍सी चालकों को 5-5 हजार रुपये की मदद दी जाएगी.

-पिछली बार लॉकडाउन में दिल्‍ली सरकार ने करीब 1 लाख 56 हजार ड्राइवरों की मदद की थी.

-ये बहुत कठिन दौर है, जिससे हम सभी गुजर रहे हैं.

-कोरोना की सेंकेंड वेव बहुत ज्‍यादा खराब है.

-सभी लोगों से विनती है क‍ि इस समय एक-दूसरे की मदद करें. सब लोग चाहे वह किसी भी पार्टी के हों, सभी आपस में मिलकर एक-दूसरे की मदद करें.

-इस वक्‍त कोई राजनीति न करें.

-बीमार व्‍यक्ति को अस्‍तपाल में भर्ती कराने, बेड न मिलने पर उसकी व्‍यवस्‍था करवाने, ऑक्‍सीजन दिलवाने में मदद करें.

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed