नई दिल्ली, देश के उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री के लिए नया आशियाना मई से दिसंबर 2022 के बीच बनकर तैयार हो जाएगा। सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट की जिम्मेदारी संभालने वाले केन्द्रीय लोक निर्माण विभाग (सीपीडब्लूडी) ने यह जानकारी दी है। सीपीडब्लूडी डिपार्टमेंट का कहना है कि पर्यावरण मंत्रालय के विशेषज्ञों की ओर से प्रोजेक्ट को सभी जरूरी मंजूरी मिल चुकी है, जिसके बाद अब यह बिल्डिंग अगले साल के आखिर तक बनकर तैयार हो जाएगी।

इस बिल्डिंग में एक केंद्रीय सचिवालय और स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) बिल्डिंग भी शामिल है।

सीपीडब्लूडी की ओर से मंत्रालय को बताया गया है कि नए संसद भवन का काम नवंबर 2022 तक पूरा हो जाएगा, उपराष्ट्रपति भवन का काम मई 2022 तक पूरा होगा और प्रधानमंत्री आवास के साथ ही एसपीडी बिल्डिंग दिसंबर 2022 तक बनकर तैयार होगा। बता दें कि इस प्रोजेक्ट की लागत 13 हजार 450 करोड़ रुपये हैं।

आजादी की 75वीं वर्षगांठ के मौके पर देश में नया संसद भवन तैयार किए जाने का लक्ष्य है। बता दें कि 2022 में भारत को आजाद हुए 75 साल पूरे हो जाएंगे। हालांकि, यह पूरा प्रोजेक्ट साल 2024 में पूरा होगा। इस प्रोजेक्ट के तहत 11 प्रशासनिक भवन भी बनाए जाने हैं, जिसमें सभी मंत्रालय स्थित होंगे। 

लोकसभा हॉल में 1,272 लोगों के बैठने का इंतजाम होगा
नए भवन में लोकसभा और राज्यसभा के लिए हॉल का निर्माण किया जाएगा, जिनकी क्षमता क्रमश: 888 और 384 सीटों की होगी। इनका निर्माण 2026 में होने वाले संसद के सदस्यों में होने वाली वृद्धि को ध्यान में रखते हुए किया जा रहा है। लोकसभा हॉल में 1,272 लोगों के बैठने का इंतजाम होगा ताकि संयुक्त सत्र का आयोजन किया जा सके।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *