महामारी के बीच देश के लिए एक राहत भरी खबर आयी है। एशियन डेवलपमेंट बैंक (एडीबी) ने बुधवार को कहा कि बेहतर और व्यापक टीकाकरण के चलते, चालू वित्त वर्ष में भारतीय अर्थव्यवस्था का 11% की दर से बढ़ने का अनुमान है। हालांकि रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि कोविड के मामलों में हालिया उछाल देश की आर्थिक सुधार के लिए जोखिम साबित हो सकता है।

बुधवार को एडीबी ने अपने प्रमुख एशियाई विकास आउटलुक (एडीओ) 2021 को जारी करते हुए कहा, बेहतर टीकाकरण के चलते भारतीय अर्थव्यवस्था के वित्त वर्ष 2021 में 11% की दर से बढ़ने की उम्मीद है, जो मार्च 2022 में समाप्त होगी। आगे रिपोर्ट में अनुमान लगाया गया है कि वित्त वर्ष 2022 में भारतीय अर्थव्यवस्था (GDP) 7% की दर से बढ़ेगी।

रिपोर्ट में कहा गया है कि दक्षिण एशिया के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के इस वर्ष 9.5 प्रतिशत तक पहुंचने की उम्मीद है, जो 2020 में 6 प्रतिशत तक संकुचित हुई थी। वहीं वित्त वर्ष 2022 में उम्मीद जताई गई है कि दक्षिण एशिया का सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) 6.6 प्रतिशत पर पहुंच जाएगा।

इस वर्ष विकसशील एशिया की अर्थव्यवस्थाएं करेंगी बेहतर प्रदर्शन

एडीबी ने कहा कि विकासशील एशिया की आर्थिक वृद्धि दर कोरोना महामारी से वैश्विक रिकवरी और कोविड-19 टीकाकरण अभियान की सशक्त शुरुआत के कारण इस वर्ष 7.3% के आसपास रहेगी। यह दर पिछले वर्ष की वृद्धि दर से 0.2% अधिक है। रिपोर्ट में कहा गया है कि 2022 में क्षेत्र की कुल वृद्धि दर 5.3% तक रहने का अनुमान है।

हांगकांग, चीन, कोरिया की औद्योगिक अर्थव्यवस्थाओं को छोड़कर, एशिया की आर्थिक गतिविधि विकसित करने वाले सिंगापुर और ताइपे-चीन में इस वर्ष 7.7% की दर से वृद्धि होने की उम्मीद है। वर्ष 2022 में यह दर 5.6% हो जाएगी। रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि विकासशील एशिया की अधिकांश अर्थव्यवस्थाएं इस साल और 2022 में बेहतर विकास करेंगी।

विकासशील एशिया में भौगोलिक समूह के आधार पर एडीबी सूची के 46 सदस्य शामिल हैं। इनमें नई औद्योगिक अर्थव्यवस्थाएं, मध्य एशिया के देश, पूर्वी एशिया, दक्षिण एशिया, दक्षिण पूर्व एशिया और प्रशांत क्षेत्र की अर्थव्यवस्थाएं शामिल हैं।

चीन की विकास दर में भी होगा सुधार

रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन में, मजबूत निर्यात और घरेलू खपत में धीरे-धीरे सुधार इस साल आर्थिक गतिविधि को बढ़ावा देगा। चीन का सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) 2021 में 8.1 फीसदी और 2022 में 5.5 फीसदी से विस्तार होने का अनुमान है। पूर्वी एशिया की जीडीपी 2021 में 7.4 फीसदी और 2022 में 5.1 फीसदी बढ़ने का अनुमान रिपोर्ट में है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *