कोरोना वायरस के खिलाफ जंग को तेज करते हुए देशभर में 1 मई से टीकाकरण के तीसरे चरण का अभियान का आगाज हो रहा है। कोरोना से सबसे अधिक तबाह महाराष्ट्र को टीकाकरण में सीरम इंस्टीट्यूट की ओर से पूरा समर्थन और सहयोग मिलेगा। ऐसा दावा मुख्यमंत्री कार्यालय ने आदार पूनावाला के हवाले से किया है। मुख्यमंत्री कार्यालय ने शनिवार कोकहा कि सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) ने शनिवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को राज्य में लोगों को जल्द से जल्द टीकाकरण में ‘अधिकतम समर्थन’ का आश्वासन दिया है। बता दें कि कोरोना वायरस के 6,94,480 सक्रिय मामलों के साथ महाराष्ट्र देश का सबसे प्रभावित राज्य है। 

सीएमओ कार्यालय ने ट्वीट किया, ‘ मुख्यमंत्री उद्धव साहेब ठाकरे को आदार पूनावाला और सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा महाराष्ट्र में जल्द से जल्द वैक्सीनेशन के लिए अधिकतम समर्थन देने का भरोसा दिया गया है। एक अन्य ट्वीट में कहा गया कि हमें अपने राज्य में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया जैसी विश्व स्तरीय संस्था होने पर गर्व है और हम अपने नागरिकों की सुरक्षा के लिए एक रणनीतिक साझेदारी की उम्मीद करते हैं। 

हिंदी न्यूज़   ›   महाराष्ट्र   ›   कोरोना से तबाह महाराष्ट्र को सीरम के करेगी बड़ी मदद, CEO ने उद्धव ठाकरे को दिलाया यह भरोसा

कोरोना से तबाह महाराष्ट्र को सीरम के करेगी बड़ी मदद, CEO ने उद्धव ठाकरे को दिलाया यह भरोसा

हिन्दुस्तान टीम,मुंबई | Published By: Shankar Pandit

uddhav thackrey

1 / 2Uddhav ThackreyPreviousNext

कोरोना वायरस के खिलाफ जंग को तेज करते हुए देशभर में 1 मई से टीकाकरण के तीसरे चरण का अभियान का आगाज हो रहा है। कोरोना से सबसे अधिक तबाह महाराष्ट्र को टीकाकरण में सीरम इंस्टीट्यूट की ओर से पूरा समर्थन और सहयोग मिलेगा। ऐसा दावा मुख्यमंत्री कार्यालय ने आदार पूनावाला के हवाले से किया है। मुख्यमंत्री कार्यालय ने शनिवार कोकहा कि सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) ने शनिवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को राज्य में लोगों को जल्द से जल्द टीकाकरण में ‘अधिकतम समर्थन’ का आश्वासन दिया है। बता दें कि कोरोना वायरस के 6,94,480 सक्रिय मामलों के साथ महाराष्ट्र देश का सबसे प्रभावित राज्य है। 

सीएमओ कार्यालय ने ट्वीट किया, ‘ मुख्यमंत्री उद्धव साहेब ठाकरे को आदार पूनावाला और सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा महाराष्ट्र में जल्द से जल्द वैक्सीनेशन के लिए अधिकतम समर्थन देने का भरोसा दिया गया है। एक अन्य ट्वीट में कहा गया कि हमें अपने राज्य में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया जैसी विश्व स्तरीय संस्था होने पर गर्व है और हम अपने नागरिकों की सुरक्षा के लिए एक रणनीतिक साझेदारी की उम्मीद करते हैं। 

दरअसल, सीरम इंस्टीट्यूट की वैक्सीन कोविशील्ड है, जो भारत के टीकाकरण अभियान में सबसे बड़ा हथियार है। भारत सरकार ने कोविशील्ड के साथ भारत बायोटेक की कोवैक्सिन को भी आपात इस्तेमाल की मंजूरी दी है। अब तक कोविशील्ड और कोवैक्सिन के साथ भारत का टीकाकरण अभियान हो रहा है, मगर उम्मीद की जा रही है कि अगले एक-डेड़ महीने में रूसी वैक्सीन स्पूतनिक-वी इस अभियान में शामिल हो जाएगी।

राज्य में शनिवार को भी कोरोना वायरस के 67 हजार से ज्यादा नए मामले आए हैं और इसके बाद ऐक्टिव केस बढ़कर 7 लाख के करीब पहुंच गए हैं। वहीं, मुंबई में पिछले 24 घंटे के अंदर 5 हजार 888 नए मामले दर्ज किए गए हैं। मुंबई में पिछले तीन हफ्तों के बाद पहली बार इतने कम रोजाना मामले मिले हैं। महाराष्ट्र में शनिवार को 63 हजार 818 कोरोना मरीज ठीक भी हुए हैं। अब राज्य में कोरोना वायरस के 6 लाख 94 हजार 480 सक्रिय मामले हैं। वहीं, ताजा आंकड़ों के मुताबिक राज्य में मृत्यु दर 1.51 प्रतिशत है। 

वहीं, मुंबई में 31 मार्च को 5,394 नए मामले सामने आए थे, जबकि 12 अप्रैल के बाद से रोजाना 7 हजार से अधिक कोरोना केस मिल रहे थे। हालांकि, कोरोना के चलते पिछले 24 घंटों में मुंबई 71 लोगों की जान चली गई। बता दें कि एक मई से सीरम अपनी वैक्सीन को राज्य सरकारों और प्राइवेट अस्पतालों को भी बेच सकेंगी। 

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *