अक्सर फिल्मों में देखा जाता है कि बचपन में बिछड़े जुड़वा भाई या बहनों की मुलाकात बड़े होने पर अचानक हो जाती है। मगर असल जिंदगी में भी ऐसी घटनाएं घट जाती हैं। हाल ही में ऐसी हो दो जुड़वा बहनों की मुलाकात हुई, जो बचपन में जन्म के बाद अलग-अलग हो गई थीं। दरअसल दक्षिण कोरिया में जन्म लेने वाली बहनों को अमेरिका के अलग-अलग परिवारों ने गोद लिया था। बहनों को हाल फिलहाल में ही एक-दूसरे की जानकारी मिली, जिसके बाद उन्होंने मुलाकात की। मौली सिनर्ट और एमिली बुशनेल नाम की दोनों ही बहनों को इस बात की जानकारी नहीं थीं कि वह जुड़वा हैं। न ही उन्हें अपने बैकग्राउंड के बारे में ज्यादा मालूम था। 

साथ-साथ मनाया जन्मदिन
डेली मेल की खबर के मुताबिक, दोनों ही बहनों के लिए यह जानना एक सरप्राइज था कि उनकी कोई जुड़वा बहन भी है। जन्म के बाद यह उनकी पहली मुलाकात थी। मौका भी खास था, ऐसे में दोनों ने 36वें जन्मदिन का जश्न भी साथ-साथ मनाया। सिनर्ट को फ्लोरिडा में एक यहूदी परिवार ने गोद लिया था। वहीं बुशनेल को भी एक यहूदी परिवार ने ही गोद लिया था, लेकिन पेंसिल्वेनिया में। एक बहन को दूसरी के जिंदा होने की कोई जानकारी नहीं थी।

बेटी ने कराई मुलाकात
दरअसल बुशनेल की 11 वर्षीय बेटी इसाबेल ने अपनी मां के बैकग्राउंड और जेनेटिक्स के बारे में ज्यादा जानने की इच्छा जताई। इसाबेल के मुताबिक मां को गोद लिया गया था, इसलिए मैं डीएनए टेस्ट कराना चाहती थी। मैं देखना चाहती थी कि मां की तरफ से मेरा और भी परिवार है या नहीं। लेकिन वह डीएनए टेस्ट नहीं कराना चाहती थीं, ऐसे में मैं ही कराने चली गई। वहीं सिनर्ट ने भी डीएनए टेस्ट कराने का फैसला लिया। हैरानी की बात यह है कि सिनर्ट और बुशनेल की बेटी ने बीते महीने एक ही वक्त पर डीएनए टेस्ट कराया। 

फिल्मी अंदाज में मुलाकात
सिनर्ट का कहना है कि जब करीबी रिलेटिव पर क्लिक किया तो मुझे समझ नहीं आया। मैं वह पल याद करने लगी कि कोई करीबी ब्लड रिलेटिव है। 
फिर बाताया गया कि आपका 49.96 प्रतिशत डीएनए इससे मिलता है। पता लगाने पर मालूम हुआ कि वह मेरी जुड़वा बहन की बेटी थी। काफी खोजबीन के बाद जुड़वा बहन का पता चला। यह देखकल यकीन ही नहीं हुआ। लेकिन जो भी है अब हमारे पास परिवार है, प्यार है और साथ है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed