देश में कोरोना वायरस के नए मामले में हर दिन नए रिकॉर्ड बना रहे हैं। एक तरफ अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी है तो दूसरी ओर से बाजार में दवाएं नहीं हैं। ऑक्सीजन और दवाओं की किल्लत के बाद पीएम मोदी भी निशानों पर आ गए हैं। जैसे ही पीएम मोदी निशाने पर आए उनके समर्थक बचाव में उतर आए। ऐसा ही कुछ कंगना रनौत ने भी किया है। यहां तक कि ट्विटर पर #भारत_का_वीर_पुत्र_मोदी का हैशटैग भी ट्रेंड करने लगा। 

दरअसल कंगना रनौत ने इस हैशटैग का इस्तेमाल करते हुए लिखा जब आपके पास दुनिया का सबसे काबिल नेता हो, तो खुद प्रधानमंत्री बनने की कोशिश नहीं करनी चाहिए। उनका समर्थन करो, यही हमारा धर्म और कर्म है। कंगना रनौत का यह ट्वीट एक रिटायर्ड आईएएस ऑफिसर सूर्य प्रताप सिंह को नागवार गुजरा। 

आयोडिन युक्त नमन खाने की दी सलाह
उन्होंने कंगना के ट्वीट पर रिप्लाई करते हुए लिखा है कंगना जी, आप प्रधानमंत्री की समर्थक हैं या उनकी धुर विरोधी? क्यूंकि इस वक्त पर ऐसा ट्रेंड कोई दुश्मन ही करवा सकता है छवि और बिगाड़ने के लिए। जब चारों तरफ लाशें ही लाशें हैं तब आपका ट्रेंड किसी की ‘मैयत’ में पटाखे फोड़ने जैसा कृत्य है। आयोडिन युक्त नमक का सेवन करो बेटा।

कंगना बोलीं- प्रधानमंत्री ही देश हैं
पूर्व आईएएस के ट्वीट के बाद कंगना रनौत भला कहां शांत रहने वालीं। उन्होंने भी जवाब दिया। कंगना ने जवाब में लिखा, प्रधानमंत्री ही देश हैं, यह विचार रखना की वो हमसे अलग हैं तो फिर लोकतंत्र का ढोंग ही क्यूँ करना, मत देकर एक प्रतिनिधि चुनने का इतना भारी आर्थिक लागत का काम ही क्यूँ करना,प्रधानमंत्री देश केलिये पिता समान हैं,उनकी नियत पे संदेह या उनके परास्त-हार जाने की कामना करना बेवकूफी है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed