अमेरिका में एक भारतीय दंपती का शव उनके घर से बरामद किया गया है। दोनों की मौत का पता उस समय चल सका जब उनकी चार साल की बेटी बालकनी में अकेले लगातार रोती हुई देखी गई। इसके बाद पड़ोसियों ने पहल की और घर खुला तो दोनों का शव देखा गया। कुछ अमेरिकी मीडिया ने कहा है कि दंपती की उत्तर अर्लिंग्टन अपार्टमेंट में छुरा घोंपने से मौत हो गई। यह हत्या है या आत्महत्या, फिलहाल इसका खुलासा नहीं हो सका है।

एक अमेरिकी मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि पति ने अपनी पत्नी के पेट में चाकू मार दिया। बताया जा रहा है कि दोनों के बीच बंद कमरे में झगड़ा हुआ था।

बालाजी भारत रुद्रावर (32) और उनकी पत्नी आरती बालाजी रुद्रवार (30) के शव उनके न्यू जर्सी के नॉर्थ अर्लिंग्टन बोरो के रिवरव्यू गार्डन परिसर में 21 गार्डन टैरेस अपार्टमेंट में पाए गए। इस परिसर में 15,000 से अधिक लोग रहते हैं।

बालाजी के पिता भारत रुद्रावर ने न्यूज एजेंसी पीटीआई को बताया, “बुधवार को पड़ोसियों ने बालकनी में बच्ची को रोते हुए देखा। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई।” पुलिस जब आई तो घर को खोला गया। दोनों का शव बरामद किया गया। रिपोर्ट में कहा गया है कि जांचकर्ता मौत के कारण और परिस्थितियों का पता लगाने के लिए मेडिकल परीक्षक का इंतजार कर रहे थे। हालांकि चाकू मारने की बात पुष्टि की गई है। 

मृतक के पिता ने कहा, “स्थानीय पुलिस ने गुरुवार को मुझे इसकी सूचना दी। मौत के कारण पर अभी तक कोई स्पष्टता नहीं है। अमेरिकी पुलिस ने कहा कि वे शव परीक्षण रिपोर्ट के निष्कर्षों को साझा करेंगे।” उन्होंने कहा, “मेरी बहू सात महीने की गर्भवती थी। हम उनके घर गए थे। फिर से उनके साथ रहने के लिए अमेरिका जाने की योजना बना रहे थे।” 

उन्होंने कहा, “मुझे इसके पीछे किसी भी संभावित उद्देश्य के बारे में पता नहीं है। दोनों खुशी से रह रहे थे। उनके पड़ोसी भी काफी अच्छे थे।” मृतक के पिता ने कहा, “मुझे अमेरिकी अधिकारियों द्वारा सूचित किया गया है कि आवश्यक औपचारिकताओं के बाद शवों को भारत पहुंचने में कम से कम 8 से 10 दिन लगेंगे।” 

उन्होंने बताया “मेरी पोती अब मेरे बेटे के दोस्त के साथ है। स्थानीय भारतीय समुदाय में उसके कई दोस्त थे, जिसकी न्यू जर्सी में 60 प्रतिशत आबादी है।”

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *