कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए दुनिया के कई देशों में लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू जैसी पाबंदियों को लागू किया गया है। इनका उल्लंघन करने वालों को अलग-अलग तरीके से सजा भी दी जा रही है। लेकिन फिलीपींस में एक शख्स को नाइट कर्फ्यू तोड़कर दुकान में पानी खरीदने की कीमत जान देकर चुकानी पड़ी। पुलिस ने उससे इतनी वर्जिश कराई कि अगले दिन उसकी मौत हो गई।

फिलीपींस की राजधानी मनीला के पास जनरल ट्रिआस सिटी में 28 साल के डारेन मैनाओग पेनारेडोंडो की 3 अप्रैल अप्रैल को मौत हो गई। दो दिन पहले ही उसे पुलिस ने शाम 6 बजे के बाद लागू कर्फ्यू के दौरान स्थानीय दुकान से पानी की बोतल खरीदते समय पकड़ लिया था। 

डारेन की पार्टनर रेचेलिन बैलेस ने कहा कि पेनारेडोंडो और कर्फ्यू तोड़ने वाले कुछ और लोगों को 100 बार उठक-बैठक करने को कहा गया। लेकिन यदि उनका तालमेल बिगड़ता था तो फिर से गिनती शुरू कर दी जाती थी। डारेन को करीब 300 बार उठक-बैठक करना पड़ा और अगली सुबह जब वह घर वापस आया तो चलने लायक नहीं था। 

अगले दिन सुबह 8 बजे उसे एक शख्स सहारा देकर घर लाया जो उसके साथ कर्फ्यू तोड़ने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। रेचेलिन बैलेस ने कहा, ”मैंने उससे पूछा कि क्या उसे पीटा गया है तो वह मुस्कुराया, लेकिन यह साफ था कि वह बहुत दर्द में था।”

रेचेलिन बैलेस ने बताया कि पूरे दिन वह खड़ा नहीं हो पाया और जमीन पर घिसटता रहा। उसके पैरों और घुटनों में असहनीय दर्द था। बाथरूम का इस्तेमाल करते हुए उसे दौड़े पड़ने लगे। एक पड़ोसी ने सीपीआर देकर उसे रिवाइव किया। वह कुछ देर के लिए होश में आया, लेकिन फिर उसकी मौत हो गई। 

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *