महाराष्ट्र की राजनीति में बड़ा उठापटक देखने को मिला है, राज्य के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने सोमवार को मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया। देशमुख ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को अपना इस्तीफा सौंपा, जिसे मुख्यमंत्री ने स्वीकार कर लिया है। कोई अन्य व्यवस्था होने तक गृह मंत्री का कामकाज भी मुख्यमंत्री ही संभालेंगे |

परमबीर सिंह के आरोपों की प्राथमिक जांच बताई वजह अ

पने इस्तीफे में अनिल देशमुख ने कहा है कि हाईकोर्ट ने सोमवार को परमबीर सिंह के आरोपों की प्राथमिक जांच का आदेश दिया है। इसी वजह से वे गृह मंत्री पद से इस्तीफा दे रहे हैं। अल्पसंख्यक विभाग के मंत्री नवाब मलिक ने बताया कि हाईकोर्ट के निर्णय के बाद अनिल देशमुख राकांपा प्रमुख शरद पवार से मिले थे। शरद पवार के समक्ष अनिल देशमुख ने इस्तीफा देने की इच्छा जताई थी। शरद पवार ने अनिल देशमुख के निर्णय को सही बताया। इसके बाद देशमुख ने वर्षा बंगले पर जाकर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को अपना इस्तीफा सौंप दिया ।

महाविकास आघाडी सरकार में इस्तीफा देने वाले दूसरे मंत्री

गौरतलब हो कि अनिल देशमुख महाविकास आघाडी सरकार में इस्तीफा देने वाले दूसरे मंत्री हैं। अनिल देशमुख को पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह की ओर से लगाए गए 100 करोड़ रुपये प्रतिमाह रंगदारी वसूलने के आरोप के बाद इस्तीफा देना पड़ा है। इसके पहले वन मंत्री संजय राठौर ने अपना इस्तीफा मुख्यमंत्री को दिया था। संजय राठौर पर एक महिला को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया गया था।

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने अनिल देशमुख के इस्तीफे का स्वागत किया है। चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि सीबीआई जांच में अभी बहुत से लोगों के नाम सामने आने वाले हैं।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed