पंजाब के जालंधर में एक नाबालिग दलित लड़की से गैंगरेप का मामला सामने आया है। आरोप है कि लड़की के प्रेमी ने सात अन्य लोगों के साथ मिलकर कथित गैंगरेप को अंजाम दिया। पुलिस ने लड़की के परिवार की शिकायत पर इस मामले में अभी तक आठ में से तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है।  

इंडिया टुडे की खबर के मुताबिक, पुलिस ने बताया है कि लड़की एक गरीब दलित परिवार से आती है। शिकायत के मुताबिक, लड़की मुख्य आरोपी संदीप के साथ रिश्ते में थी, जिसने उससे शादी का वादा किया था। 

पुलिस ने बताया कि यह अभी तक स्पष्ट नहीं है कि लड़की के परिवार को आरोपी के साथ बेटी के रिश्ते के बारे में जानकारी थी या नहीं। 

शिकायत के मुताबिक, संदीप ने 15 मार्च को पीड़िता को फोन किया और उसे अगले दिन हरियाणा के सिरसा जिले में मंडी दबवाली बस स्टैंड पर मिलने को कहा। 

संदीप ने कथित तौर पर लड़की से कहा कि वे लोग जालंधर जाएंगे और वहां शादी करेंगे। लड़की ने संदीप पर भरोसा किया और 16 मार्च की सुबह करीब 6 बजे वह घर से निकल गई। वह पंजाब में किलियांवाली नाम की जगह पर पहुंची जहां से उसे संदीप अपने साथ ले गया। दोनों उसी दिन जालंधर पहुंचे।

पुलिस ने बताया कि संदीप लड़की को जालंधर में एक कमरे में गया जहां पहले से ही रंजीत, लंबू, बिल्ला, संदीप उर्फ सैन्या, संतोष और एक अज्ञाद आदमी मौजूद थे। 

इसके बाद सबने लड़की से बारी-बारी कर बलात्कार किया और 20 मार्च को रात 10 बजे के करीब पीड़िता को उसके घर के बाहर छोड़ दिया। पांच अन्य आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस की छापेमारी जारी है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *