नई दिल्ली: कोरोना महामारी के कारण पूरी दुनिया में हाहाकार मचा हुआ है, वही इस बीच देश में कोरोना टीकाकरण की प्रक्रिया तेजी से जारी है। कोरोना के बढ़ते केसों को देखते हुए केंद्र अधिक से अधिक व्यक्तियों को टीका लगाए जाने पर ध्यान दे रही है। इस बीच केंद्रीय स्वास्थ्यमंत्री डॉ हर्षवर्धन का कहना है कि कोरोना वैक्सीन की 6.1 करोड़ डोज देश में व्यक्तियों को दी जा चुकी है जबकि 6.4 करोड़ डोज विश्व के 84 देशों दी गई है। डॉ हर्षवर्धन ने कहा कि ये डोज भारत की ओर से इन देशों को या तो तोहफे में दी गई हैं अथवा कॉन्ट्रैक्ट के तहत दी गई हैं, या फिर ये वैक्सीन Covax सुविधा के तहत दी गई हैं जो की शेष देशों को सहायता करने के लिए WHO ने बनाई है।

वहीं दूसरी तरफ केंद्र सरकार कोरोना रोधी दोनों टीके ‘कोवैक्सीन’ तथा ‘कोविशील्ड’ को लेकर राहत भरा बयान जारी किया है। केंद्र का कहना है कि कोरोना वायरस के ब्रिटेन एवं ब्राजील में मिले स्वरूपों के विरुद्ध दोनों ही वैक्सीन कारगर हैं। इसके साथ ही विषाणु के दक्षिण अफ्रीकी स्वरूप के विरुद्ध कई प्रयोगशालाओं में काम जारी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के साप्ताहिक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के महानिदेशक बलराम भार्गव ने कहा कि भारत में अब तक 11064 नमूनों की ‘जीनोम सीक्वेंसिंग’ की गई है, जिनमें से 807 सैंपल में ब्रिटेन में मिले कोरोना वायरस का नया स्वरूप पाया गया, 47 नमूनों में वायरस का दक्षिण अफ्रीकी स्वरूप प्राप्त हुआ और एक नमूने में वायरस का ब्राजीलियाई स्वरूप प्राप्त हुआ है।

भारत में कोरोना का संकट बढ़ता जा रहा है। प्रतिदिन हो रहे वृद्धि के साथ-साथ अब साप्ताहिक उछाल भी देखने को मिला है। इस सप्ताह कोरोना के केसों में बीते सप्ताह की तुलना में 1.3 लाख केसों की बढ़त दर्ज की गई है। ये उछाल 51 फीसदी अधिक है। कोरोना के सबसे अधिक केस इस वक़्त महाराष्ट्र में हैं। महाराष्ट्र में बीते 24 घंटों में कोरोना के 31,643 नए केस सामने आए हैं। साथ ही जहां 20,854 व्यक्ति स्वस्थ हुए हैं, वहीं 102 व्यक्तियों की मौत भी हुई है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *