मायके जाने से मना करने पर महिला ने अपने 3 साल के मासूम बेटे की चाकू से गोदकर हत्या कर दी। इसके बाद खुद के गले पर चाकू मारकर कर आत्महत्या की कोशिश की। जानकारी होने पर हड़कंप मच गया। मौके पर पहुंचे नगर पंचायत के चेयरमैन ने बिना पुलिस को सूचना दिए शव दफन करवा दिया। बाद में मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी मां समेत चार लोगों को हिरासत में लिया है। अंतू थाना क्षेत्र के पूरे बैजनाथ गांव निवासी राकेश वर्मा राजमिस्त्री है। वह घर से 500 मीटर दूर खेत में एक और मकान बनवा रहा है। 

रविवार शाम को राकेश की पत्नी केश कुमारी होली पर मायके जाने की बात कहने लगी। पति ने मना किया तो दोनों में विवाद हो गया। रात में राकेश निर्माणाधीन मकान में सोने चला गया। उसका पिता राम सुख भी वही था। मां घर के सामने दूसरे छप्पर में सो रही थी। राकेश की पत्नी केश कुमारी अपने तीन साल के मासूम बेटे युग के साथ अलग सो रही थी। भोर में करीब 5 बजे केश कुमारी  चाकू से अपने मासूम बेटे को गोदकर मार डाला। इसके बाद अपने गले को रेतने का प्रयास किया। लेकिन इस बीच उसकी चीख निकल गई। इस पर सास समेत पड़ोस के लोग भी मौके पर पहुंच गए। 

मौके की हालत देख कर सभी हैरान रह गए। सुबह मौके पर अंतू नगर पंचायत के चेयरमैन पहुंचे। घर के लोगों के कहने पर बिना पुलिस को सूचना दिए बच्चे के शव को गांव की बाग में दफन करा दिया। दिन में घटना की जानकारी होने पर एसओ प्रवीण कुशवाहा के साथ सीओ सिटी अभय पांडेय मौके पर पहुंचे। आरोपी केश कुमारी के साथ पति राकेश वर्मा व उसके सास-ससुर को हिरासत में लेकर थाने ले गए। पुलिस पूछताछ कर रही है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *