दिल्लीवाले अब सार्वजनिक स्थलों पर एकजुट होकर होली नहीं खेल पाएंगे। दिल्ली में सार्वजनिक स्थलों पर होली समेत अन्य त्यौहारों के आयोजन पर रोक लगा दी है। दिल्ली सरकार बढ़ते कोरोना के मामले को देखते हुए सरकार ने यह फैसला लिया है। सोमवार को दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की बैठक में भी इसपर चर्चा होन के बाद मंगलवार को इस संबंध में आदेश जारी कर दियिा गया है।

डीडीएमए की ओर से जारी आदेश के मुताबिक दिल्ली में सार्वजनिक स्थलों पर होली, शब-ए-बारात और नवरात्रि के मनाने पर रोक लगाई गई है। इन त्याहारों के दौरान किसी भी सार्वजनिक स्थानों पर सार्वजनिक उत्सव, लोगों के इकट्ठा होने या किसी भी तरह के जलसे पर पाबंदी रहेगी। सरकार ने सभी जिलाधिकारियों को कहा है कि वह इसका कड़ाई से पालन करेंगे। अगर कोई इसके खिलाफ जाता है तो उसके खिलाफ महामारी एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी।

बताते चले दिल्ली में बीते कुछ दिनों से लगातार कोरोना के मामले बढ़ रहे है। दिल्ली में मंगलवार को ही 1100 से अधिक कोरोने के मामले आए है। संक्रमण की दर में भी इजाफा हो रहा है। दिल्ली में संक्रमण की दर 1.31 फीसदी तक पहुंच गई है। सरकार का मानना है कि इन त्यौहारों के दौरान अगर कोई आयोजन होता है तो उससे वायरस के आगे फैलने का खतरा है। जिससे कोरोना के मामले तेजी से बढ़ेंगे।

बस, ट्रेन एयरपोर्ट से आने वालों की होगी रैंडम जांच
सरकार ने त्यौहारों पर पाबंदी के साथ दूसरे राज्यों से बस, हवाई जहाज और ट्रेन से आने वाले यात्रियों की कोविड जांच में तेजी लाएगी। मंगलवार को डीडीएमए ने इस संबंध में आदेश जारी किया है। जिसमें कहा गया है कि दूसरे राज्यों से आने वाले यात्रियों की हर जगह रैंडम जांच की जाएगी। इसमें सरकारी बसों के अलावा दूसरे राज्यों से आने वाली निजी बसों को भी शामिल किय जाएगा। इसमें ऐसे राज्यों से आने वाले बस, ट्रेन व हवाई जहाज पर फोकस रहेगा जहां कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *