अंडमान-निकोबार द्वीप समूह में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (आईडीवाई)- 2021 के मौके पर गतिविधियों की एक श्रृंखला देखी जाएगी, जिनसे जनता केबड़े पैमाने पर योग को अपनाने के लिए प्रेरित होने की उम्मीद है। वहीं, केंद्रशासित (यूटी) प्रशासन महामारी के खतरे को देखते हुए सावधानी के साथ आगे बढ़ रहा है।

21 जून, 2021 को आयोजित होने वाली सातवीं आईडीवाई की तैयारियों को लेकर यूटी प्रशासन ने पिछले वर्षों में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के लिए बनाई गई गति को आगे बढ़ाने का फैसला लिया है। यूटी प्रशासन इस वर्ष की गतिविधियों में सभी क्षेत्रों के लोगों को शामिल करने के लिए उत्सुक है।सातवीं आईडीवाई के लिए यूटी प्रशासन की योजना को पहले ही अंतिम रूप दिया जा चुका है और यह पिछले वर्ष के दौरान आयोजित गतिविधियों के अनुरूप है। वहीं, सभी आईडीवाई गतिविधियां कोविड-19 महामारी को लेकर तय तरीके से आयोजित की जाएंगी।

सामान्य योग प्रोटोकॉल (सीवाईपी) के आधार पर प्रमुख स्थानों में जन योग प्रदर्शनों का आयोजन किया जाएगा। उपयुक्त पंचायत भवन, सामुदायिक भवन और स्कूल के प्रांगण आदि का उपयोग व्यवहार्यता के अनुसार किया जाएगा।केंद्रशासित प्रदेश के सभीतीनों जिलों में भारत सरकार द्वारा जारी कोविड-19 दिशानिर्देशों का सख्ती से पालन किया जाएगा।प्रत्येक स्थान पर होने वाले कार्यक्रमों की निगरानी प्रशासन केवरिष्ठ स्तरीय अधिकारी यानी सचिव/एचओडी/अन्य उपयुक्त अधिकारीसंबंधित विभागों के सहयोग से कर सकते हैं। वहीं, प्रतिभागियों के मार्गदर्शन के लिए योग विशेषज्ञों को आमंत्रित किया जाएगा।

इसके अलावा यह भी फैसला लिया गया है कि 7वीं आईडीवाई में लोगों की बढ़ी हुई जन भागीदारी को देखते हुएपूरे केंद्र शासित प्रदेश में कोविड-19 दिशानिर्देशों के पालन को लेकर आईडीवाई-2021 से कम से कम एक महीने पहले जागरूकता गतिविधियों का संचालन किया जाएगा। इसके लिए प्रस्तावित गतिविधियां निम्नलिखित हैं :

  1. जागरूकता/ योग रैली
  2. विद्यालय/कॉलेज के छात्रों और आम आदमी के लिए चित्रकला/वक्तृत्व कला/निबंध/भाषण/पोस्टर प्रतियोगिता
  • iii. योग पर सेमिनार/कार्यशालाएं
  • iv. योग पर संगीत और सांस्कृतिक कार्यक्रम
  1. योग पर लघु प्रदर्शनी
  • vi. योग जागरूकता/ बहुविषयक स्वास्थ्य शिविर
  1. विद्यालय के छात्रों के लिए योग पर जागरूकता कार्यक्रम
  2. योग आदि पर स्वास्थ्य चर्चा

यह उम्मीद है कि इन व्यवस्थित प्रयासों से योग को अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के सार्वजनिक स्वास्थ्य क्षेत्र में एक स्थायी स्थान मिलेगा। इसके अलावा आईडीवाई आयोजन के परिणामस्वरूप योग मेंलोगों की रूचि औरइससे संबंधित बुनियादी ढांचों में बढ़ोतरी होने और योग पर्यटन को एक प्रोत्साहन मिलनेकी भी उम्मीद है।अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में योग दिवस – 2021 : प्रशासन ने जन भागीदारी के लिए अग्रिम योजनाओं को अंतिम रूप दिया

Posted Date:- Mar 22, 2021

अंडमान-निकोबार द्वीप समूह में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (आईडीवाई)- 2021 के मौके पर गतिविधियों की एक श्रृंखला देखी जाएगी, जिनसे जनता केबड़े पैमाने पर योग को अपनाने के लिए प्रेरित होने की उम्मीद है। वहीं, केंद्रशासित (यूटी) प्रशासन महामारी के खतरे को देखते हुए सावधानी के साथ आगे बढ़ रहा है।21 जून, 2021 को आयोजित होने वाली सातवीं आईडीवाई की तैयारियों को लेकर यूटी प्रशासन ने पिछले वर्षों में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के लिए बनाई गई गति को आगे बढ़ाने का फैसला लिया है। यूटी प्रशासन इस वर्ष की गतिविधियों में सभी क्षेत्रों के लोगों को शामिल करने के लिए उत्सुक है।सातवीं आईडीवाई के लिए यूटी प्रशासन की योजना को पहले ही अंतिम रूप दिया जा चुका है और यह पिछले वर्ष के दौरान आयोजित गतिविधियों के अनुरूप है। वहीं, सभी आईडीवाई गतिविधियां कोविड-19 महामारी को लेकर तय तरीके से आयोजित की जाएंगी।सामान्य योग प्रोटोकॉल (सीवाईपी) के आधार पर प्रमुख स्थानों में जन योग प्रदर्शनों का आयोजन किया जाएगा। उपयुक्त पंचायत भवन, सामुदायिक भवन और स्कूल के प्रांगण आदि का उपयोग व्यवहार्यता के अनुसार किया जाएगा।केंद्रशासित प्रदेश के सभीतीनों जिलों में भारत सरकार द्वारा जारी कोविड-19 दिशानिर्देशों का सख्ती से पालन किया जाएगा।प्रत्येक स्थान पर होने वाले कार्यक्रमों की निगरानी प्रशासन केवरिष्ठ स्तरीय अधिकारी यानी सचिव/एचओडी/अन्य उपयुक्त अधिकारीसंबंधित विभागों के सहयोग से कर सकते हैं। वहीं, प्रतिभागियों के मार्गदर्शन के लिए योग विशेषज्ञों को आमंत्रित किया जाएगा।इसके अलावा यह भी फैसला लिया गया है कि 7वीं आईडीवाई में लोगों की बढ़ी हुई जन भागीदारी को देखते हुएपूरे केंद्र शासित प्रदेश में कोविड-19 दिशानिर्देशों के पालन को लेकर आईडीवाई-2021 से कम से कम एक महीने पहले जागरूकता गतिविधियों का संचालन किया जाएगा। इसके लिए प्रस्तावित गतिविधियां निम्नलिखित हैं :

  1. जागरूकता/ योग रैलीविद्यालय/कॉलेज के छात्रों और आम आदमी के लिए चित्रकला/वक्तृत्व कला/निबंध/भाषण/पोस्टर प्रतियोगिता
  • iii. योग पर सेमिनार/कार्यशालाएंiv. योग पर संगीत और सांस्कृतिक कार्यक्रम
  1. योग पर लघु प्रदर्शनी
  • vi. योग जागरूकता/ बहुविषयक स्वास्थ्य शिविर
  1. विद्यालय के छात्रों के लिए योग पर जागरूकता कार्यक्रमयोग आदि पर स्वास्थ्य चर्चा

यह उम्मीद है कि इन व्यवस्थित प्रयासों से योग को अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के सार्वजनिक स्वास्थ्य क्षेत्र में एक स्थायी स्थान मिलेगा। इसके अलावा आईडीवाई आयोजन के परिणामस्वरूप योग मेंलोगों की रूचि औरइससे संबंधित बुनियादी ढांचों में बढ़ोतरी होने और योग पर्यटन को एक प्रोत्साहन मिलनेकी भी उम्मीद है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *