राजस्थान के बीकानेर में रविवार दर्दनाक हादसा हुआ और इसमें पांच बच्चों की दम घुटने से मौत हो गई। इन पांच बच्चों की मौत महज गलती से कंटेनर के बंद हो जाने की वजह से हो गई। पुलिस ने बताया कि बीकानेर जिले के नापासर थानाक्षेत्र में अनाज के भंडारण कंटेनर के अंदर दम घुटने से चार बच्चियों सहित पांच बच्चों की मौत हो गई। सभी बच्चे 3 से 8 वर्ष आयु वर्ग के हैं।

बीकानेर पुलिस अधीक्षक प्रीति चंद्र ने बताया कि कंटेनर लगभग खाली था और खेलते समय बच्चे उसके अंदर एक के बाद एक कूद गये। उन्होंने बताया कि दुर्घटनावश कंटेनर बाहर से बंद हो गया और बच्चे बाहर नहीं आ सके। नापासर पुलिस थाना क्षेत्र में घटित इस हादसे में आसपास में रह रही तीन बालिकाओं और उनके भाई और एक अन्य बालिका की मौत हो गई।

उन्होंने बताया कि जब चार बच्चों की मां घर पहुंची तो बच्चे घर पर नहीं मिले। उन्होंने बताया कि तलाशी के दौरान उन्होंने कंटेनर खोला तो सभी बच्चों को कंटेनर के अंदर पाया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि परिजनों ने मामले में किसी पर संदेह जाहिर नहीं किया और मामले की जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि सभी बच्चों सेवाराम (4), रविना (7), राधा (5), पूनम (8) और माली को बीकानेर के पीबीएम अस्पताल ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

वहीं, एक अन्य हादसे में झुंझुनूं जिले के उदयपुरवाटी थानाक्षेत्र में एक दर्दनाक हादसे में शनिवार शाम को मिट्टी ढहने से तीन बच्चों की मौत हो गई जबकि एक बच्चा घायल हो गया। पुलिस ने रविवार को बताया कि चार बच्चे मिट्टी के टीले के नीचे सुरंगनुमा घर बनाकर खेल रहे थे। पुलिस ने बताया कि अचानक मिट्टी ढह जाने से चारों बच्चे उसमें दब गये, चारों को तुरंत अस्पताल ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने तीन बच्चों को मृत घोषित कर दिया। उन्होंने बताया कि मृतक बच्चों की पहचान सात वर्षीय प्रिंस, सुरेश और 10 वर्षीय सोना के रूप में की गई है। वहीं घायल एक बालक को उपचार के लिये अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इन हादसों पर संवेंदनाएं व्यक्त की है। अशोक गहलोत ने ट्वीट किया, ‘ हिमतासर गांव, नापासर (बीकानेर) एवं चिराना गांव, उदयपुरवाटी (झुंझुनूं) में खेलते समय हुए हादसों में आठ बच्चों की मृत्यु बेहद हृदयविदारक व दुर्भाग्यपूर्ण है। मेरी गहरी संवेदनाएं शोकाकुल परिजनों के साथ है। ईश्वर उन्हें संबल प्रदान करें। घायल बच्चे के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना है।’

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed