नई दिल्ली: पीएम मोदी ने सोमवार को विश्व जल दिवस के अवसर पर जल शक्ति अभियान का आगाज़ किया। कोरोना वायरस के कारण पीएम मोदी ने इस अभियान को वीडिया कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से लॉन्च किया। पीएम मोदी ने कार्यक्रम में कहा कि वर्तमान समय में जलशक्ति के प्रति जागरुकता और प्रयास दोनों बढ़ रहे हैं। 

पीएम मोदी ने कहा कि आज भारत में पानी की समस्या के निराकरण के लिए ‘कैच द रैन’ की शुरुआत के साथ ही केन बेतवा लिंक नहर के लिए भी बहुत बड़ा कदम उठाया गया है। अटल जी ने उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के लाखों परिवारों के हित में जो ख्वाब देखा था, उसे साकार करने के लिए ये समझौता बेहद महत्वपूर्ण है। पीएम मोदी ने कहा कि जब हम जब तेज विकास के लिए कोशिशें कर रहे हैं, तो ये पानी की सुरक्षा और प्रभावी जल प्रबंधन के बगैर संभव ही नहीं है। उन्होंने आगे कहा कि देश का विकास हमारे जल स्रोतों और कनेक्टिविटी पर निर्भर है।

पीएम मोदी ने कहा कि पानी से संबंधित सभी योजनाओं पर तेज गति से काम हो रहा है। इसमें प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, हर खेत को पानी अभियान, पर ड्रॉप मोर क्रॉप अभियान, नमामि गंगे मिशन, जल जीवन मिशन, अटल भूजल योजना जैसी योजनाएं शामिल है। पीएम मोदी ने कार्यक्रम में आगे बताया कि डेढ़ वर्ष पूर्व तक, 19 करोड़ ग्रामीण परिवारों में से सिर्फ 3.5 करोड़ घरों में ही नल का कनेक्शन था किन्तु जल जीवन मिशन के आरंभ होते ही, करीब चार करोड़ गरीब परिवारों के पास नल का कनेक्शन है।नई दिल्ली: पीएम मोदी ने सोमवार को विश्व जल दिवस के अवसर पर जल शक्ति अभियान का आगाज़ किया। कोरोना वायरस के कारण पीएम मोदी ने इस अभियान को वीडिया कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से लॉन्च किया। पीएम मोदी ने कार्यक्रम में कहा कि वर्तमान समय में जलशक्ति के प्रति जागरुकता और प्रयास दोनों बढ़ रहे हैं। 

पीएम मोदी ने कहा कि आज भारत में पानी की समस्या के निराकरण के लिए ‘कैच द रैन’ की शुरुआत के साथ ही केन बेतवा लिंक नहर के लिए भी बहुत बड़ा कदम उठाया गया है। अटल जी ने उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के लाखों परिवारों के हित में जो ख्वाब देखा था, उसे साकार करने के लिए ये समझौता बेहद महत्वपूर्ण है। पीएम मोदी ने कहा कि जब हम जब तेज विकास के लिए कोशिशें कर रहे हैं, तो ये पानी की सुरक्षा और प्रभावी जल प्रबंधन के बगैर संभव ही नहीं है। उन्होंने आगे कहा कि देश का विकास हमारे जल स्रोतों और कनेक्टिविटी पर निर्भर है।पीएम मोदी ने कहा कि पानी से संबंधित सभी योजनाओं पर तेज गति से काम हो रहा है। इसमें प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, हर खेत को पानी अभियान, पर ड्रॉप मोर क्रॉप अभियान, नमामि गंगे मिशन, जल जीवन मिशन, अटल भूजल योजना जैसी योजनाएं शामिल है। पीएम मोदी ने कार्यक्रम में आगे बताया कि डेढ़ वर्ष पूर्व तक, 19 करोड़ ग्रामीण परिवारों में से सिर्फ 3.5 करोड़ घरों में ही नल का कनेक्शन था किन्तु जल जीवन मिशन के आरंभ होते ही, करीब चार करोड़ गरीब परिवारों के पास नल का कनेक्शन है।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *