सेक्स टेप केस में फंसने के बाद कर्नाटक के जलसंसाधन मंत्री रमेश जारकीहोली ने इस्तीफा दे दिया है। सेक्स टेप के सामने आने से मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा और भारतीय जनता पार्टी को भी असहज स्थिति का सामना करना पड़ रहा है। इस टेप में मंत्री महिला से यह भी कहते हुए सुने जा सकते हैं कि ‘येदियुरप्पा ने बहुत ज्यादा भ्रष्टाचार किया है।’ वहीं वह कांग्रेस नेता और पूर्व सीएम सिद्धारमैया की तारीफ भी करते हैं। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जारकीहोली इस टेप में महिला से कहते हैं कि कांग्रेस के नेता सिद्धारमैया ‘अच्छे’ थे। मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने बहुत ज्यादा भ्रष्टाचार किया है। कभी कांग्रेस के नेता रहे जारकीहोली को यह कहते हुए भी सुना जा सकता है कि केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी मुख्यमंत्री बनेंगे।  

जारकीहोली का टेप सामने आने के बाद प्रदेश कांग्रेस प्रमुख डीके शिवकुमार ने येदियुरप्पा को घेरा और कहा कि उन्हें भ्रष्टाचारा के आरोपों पर जवाब देना चाहिए, जो वीडियो में जारकीहोली ने लगाए हैं। शिवकुमार ने कहा, ”यह केवल एक सेक्स स्कैंडल नहीं है। मंत्री वीडियो में कहते हैं कि मुख्यमंत्री भ्रष्ट हैं। सीएम को इसका जवाब देना है। गेंद अब कोर्ट के पाले में है।” 

कथित सेक्स टेप में रमेश किसी अज्ञात महिला के साथ अंतरंग होते दिख रहे हैं। इन क्लिप को कन्नड़ समाचार चैनलों में प्रसारित किया गया था। सामाजिक कार्यकर्ता दिनेश कल्लाहल्ली ने मंगलवार को रमेश के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी कि उन्होंने नौकरी पाने की एक इच्छुक महिला का कथित रूप से यौन उत्पीड़न किया और इस बारे में कुछ भी बताने पर उसे और उसके परिवार को गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी।

रमेश ने मंगलवार रात को आरोपों पर प्रतिक्रिया देते हुए संवाददाताओं से कहा था कि वह ‘सकते में हैं और वीडियो शत प्रतिशत फर्जी है।’ उन्होंने मामले की जांच की मांग की। बढ़ते दबाव के बीच रमेश ने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया। गुरुवार से शुरू हो रहे राज्य के बजट सत्र से पहले इस प्रकार के आरोप लगने के कारण बी एस येदियुरप्पा नीत भाजपा सरकार को काफी शर्मिंदगी उठानी पड़ रही है। पहले कांग्रेस में शामिल रहे रमेश कांग्रेस-जद(एस) गठबंधन सरकार को गिराने में अहम भूमिका निभाने वाले विधायकों में शामिल थे, जिसके बाद भाजपा राज्य में सत्ता में आई।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *