महाराष्ट्र में लगातार कोरोना के बढ़ते मामले सामने आ रहे हैं। प्रशासन ने भी अपना रूख कड़ा कर लिया है, कोरोना गाइडलाइन्स का पालन न करने वालों के खिलाफ सरकार सख्त कार्रवाइ कर रही है।19- 20 फरवरी को सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करने के लिए और ऑटो में दो से ज्यादा लोगों को बैठाने के लिए महाराष्ट्र में 767 ऑटो चालकों पर केस दर्ज किया गया।

महाराष्ट में लोगों की लापरवाही को राज्य में बढ़ते कोरोना मामलों के पीछे के कारण के रूप में देखा जा रहा है। ठाणे ट्रैफिक विभाग के एडिशनल कमिशन्र का कहना है कि राज्य में कोरोना मानकों का उल्लंघन करने वालों से 3,80,000 रुपये का जुर्माना इकट्ठा किया जा चुका है।

लगातार बढ़ रहे कोरोना के खतरे से बचने के लिए राज्य सरकार इंतजाम कर रही है, कई जगहों पर राज्य सरकार ने लॉकडाउन लगा दिया है।

शनिवार को राज्य में लगातार दूसरे 6000 से अधिक नए मामले सामने आए हैं। शनिवार को राज्य में कोरोना वायरस के 6281 नए मामले सामने आए। वहीं मुंबई में भी कोरोना फिर से पैर पसार रहा है। 

मुंबई में शनिवार को कोरोना के 897 नए मामले सामने आए। मुंबई में दिसंबर के बाद पहली बार ऐसा हुआ है जब एक दिन में कोरोना के इतने मामले सामने आए हैं। महाराष्ट्र में शुक्रवार को कोरोना वायरस के 6112 नए मामले सामने आए थे। जबकि उससे एक दिन पहले गुरुवार को 5427 केस सामने आए थे। बुधवार को 4787 नए मामले सामने आए।

 वहीं,महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले में कोरोना वायरस के 156 नए मामले सामने आए, जिससे जिले में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 48,293 हो गए। एक अधिकारी ने यह शनिवार को यह जानकारी दी। इन नए मामलों का पता शुक्रवार को चला। अधिकारी ने बताया कि इनमें से 143 मामले औरंगाबाद शहर के हैं।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *