वाराणसी के बनारस के हिन्दू विश्वविद्यालय के बिड़ला सी हॉस्टल में पिस्टल मिलने से हंगामा मच गया है। जिस छात्र के पास पिस्टल बरामद हुई है छात्र उस पर प्रशासनिक कार्यवाही की मांग को लेकर बीएचयू को गेट को बंद करके धरने पर बैठ गए। सूचना मिलते ही एसपी सिटी पुलिस बीएचयू गेट पहुंचे। उन्‍होंने ने धरना दे रहे छात्रों से बात की और उचित कार्यवाही का आश्वासन दिया। जिसके बाद बीएचयू का सिंह द्वार खोल दिया गया।

मिली जानकारी के अनुसार बीएचयू के बिड़ला सी हॉस्‍टल में पिस्‍टल मिली। विवि का मेन गेट बंद कर धरने पर बैठे छात्रों ने मांग की कि कमरा नंबर 110 को तत्‍काल सीज किया जाए। 50 से अधिक छात्र मेन गेट पर नारे लगाते हुए आरोपी छात्र को गिरफ्तार करने की मांग करने लगे। सूचना पर लंका और भेलूपुर समेत तीन थानों की पुलिस मौके पर पहुंच गई। छात्रों के गुस्‍से को देखते हुए अतिरिक्‍त फोर्स भी तैनात कर दी गई। देर रात एसपी सिटी विकास चंद्र त्रिपाठी ने छात्रों से बात की। उनके आश्वासन पर छात्रों ने मेन गेट खोल दिया। एसपी सिटी ने कहा कि जांच कर आरोपित को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाएगा। कहा कि प्राक्टोरियल बोर्ड की तरफ से तहरीर मिलते ही हॉस्‍टल में पुलिस को भेजकर असलहा जब्‍त किया जाएगा। 

क्‍या हुआ था 
मिली जानकारी के अनुसार बुधवार रात करीब आठ बजे बिड़ला सी छात्रावास में चीफ प्राॅॅक्टर प्रो. आनंद चौधरी प्रॉक्‍टोरियल बोर्ड के सुरक्षाकर्मियों के साथ निरीक्षण पर पहुंचे थे। इस दौरान किसी की नजर कमरा सं. 110 में पड़े एक झोले पर पड़ी जिसमें असलहा रखा था। छात्रों ने झोले के बारे में बीएचयू के सुरक्षाधिकारियों को अवगत कराया। छात्रों का कहना है कि इसे पुलिस का मामला बताते हुए प्रॉक्‍टोरियल बोर्ड के सदस्य वापस जाने लगे। प्रॉक्‍टोरियल बोर्ड के इस रुख से छात्र गुस्से में आ गए। उन्‍होंने चीफ प्राक्टर और अन्य सुरक्षाधिकारियों से असलहा जब्त करने की मांग की। इसी दौरान छात्रों और सुरक्षाधिकारियों के बीच तू-तू-मैं-मैं शुरू हो गई। बात हाथापाई तक पहुंच गई। छात्रों के गुस्‍से को देखते हुए चीफ प्राक्टर और प्रॉक्‍टोरियल बोर्ड के अन्‍य सदस्य तत्काल हास्टल से बाहर निकल गए। उधर, गुस्‍साये छात्रों ने विवि के कुछ लोगों पर अपराधियों को संरक्षण देने का आरोप लगाते हुए विरोध शुरू कर दिया। मेन गेट बंद कर वे धरने पर बैठ गए। 

प्रॉक्‍टोरियल बोर्ड ने ये कहा 
इस मामले में प्रॉक्‍टोरियल बोर्ड ने अब कहा है कि वो पुलिस के साथ मिलकर कार्रवाई करेगा। अवैध हथियार जब्त करना पुलिस के अधिकार क्षेत्र में आता है इसलिए पहले पुलिस को सूचित किया गया। चीफ प्रॉक्‍टर प्रो. आनंद चौधरी ने कहा कि विवि प्रशासन पुलिस के साथ मिलकर कार्रवाई करेगा। दोषियों को पकड़वाने में जो भी मदद होगी वो पुलिस को दी जाएगी।

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *