दिल्ली के निजी स्कूलों में नर्सरी एडमिशन की दौड़ आज (गुरुवार) से शुरू होगी। आवेदन करने की आखिरी तारीख 4 मार्च, 2021 है। शिक्षा निदेशालय द्वारा जारी शेड्यूल के मुताबिक चयनित बच्चों की पहली लिस्ट 20 मार्च को जारी होगी। इस लिस्ट के आधार पर दाखिला 24 मार्च तक कराया जा सकेगा। वहीं, दूसरी मेरिट व वेटिंग लिस्ट 25 मार्च को जारी होगी। इस लिस्ट के आधार पर दाखिला के बाद अगर सीटें खाली बचती हैं तो स्कूल फिर एक और लिस्ट जारी कर सकते हैं, जो 27 मार्च को जारी होगी।

शिक्षा निदेशालय के नए नियम के तहत निजी स्कूलों को इस सत्र में भी प्री प्राइमरी कक्षा की उतनी ही सीटों के लिए आवेदन आमंत्रित करने होंगे, जो पिछले तीन सत्र में सीटें भरी गई हैं।

आयु सीमा का नियम लागू होगा 
नर्सरी दाखिला प्रक्रिया में आयु सीमा का नियम लागू होगा। इसके तहत 31 मार्च 2021 के आधार पर बच्चे की आयु की गणना होगी। निदेशालय की तरफ से आयु सीमा के लिए तैयार फार्मुले के अनुसार, तीन साल से अधिक और चार साल से कम उम्र के बच्चे को नर्सरी, चार से अधिक और पांच साल से कम उम्र के बच्चों को केजी और पांच साल से अधिक और छह साल से कम उम्र के बच्चों को पहली कक्षा में प्रवेश दिया जा सकेगा। 

रजिस्ट्रेशन फीस के तौर पर 25 रुपए रजिस्ट्रेशन फीस ली जाएगी।

इन दस्तोवजों में कोई एक जरूरी 
– बच्चे के माता या पिता में से किसी एक के नाम जारी राशन या स्मार्ट कार्ड
– बच्चे या उसके माता-पिता के नाम जारी मूल निवास प्रमाण पत्र
– किसी भी एक अभिभावक के नाम जारी मतदाता पहचान प्रमाण पत्र
– बच्चे के माता-पिता में से किसी एक के नाम जारी बिजली, पानी का बिल या पासपोर्ट
– बच्चे के माता-पिता में से किसी एक के नाम जारी आधार कार्ड

दूरी के 50 से 70 अंक देते हैं स्कूल
नर्सरी दाखिला के लिए स्कूल मेरिट को आधार बनाते रहे हैं। इसके तहत दाखिला मेरिट बनाने के लिए स्कूलों को चुनिंदा मानदंड (क्राइटेरिया) को अपनाना होता है। इसमें घर से स्कूल की दूरी, एकल संतान, सिबलिंग, माता-पिता के स्कूल के पूर्व छात्र होने के आधार पर आवदेन करने वाले बच्चे को अंक दिए जाते हैं। इसमें सबसे अधिक अंक स्कूल से घर की दूरी के आधार पर देते हैं। इस श्रेणी में कई स्कूल 100 में से 70 तक अंक देते हैं। वहीं, अन्य श्रेणियों में 10 से 30 अंक तक स्कूलों की तरफ से दिए जाते हैं।

सिर्फ घर के पते के लिए जमा होते हैं दस्तावेज
शिक्षा निदेशालय की तरफ से जारी दिशा-निर्देशों के तहत नर्सरी दाखिले के लिए स्कूल अभिभावकों व बच्चों से किसी भी तरह के शैक्षणिक व पहचान संबंधी दस्तावेज की मांग नहीं कर सकते हैं। न ही स्कूल अभिभावकों और बच्चों के फोटो आवेदन के दौरान ले सकता है। आवेदन के समय स्कूल अभिभावकों से घर के पते के दस्तावेज के तौर पर कुछ चुनिंदा दस्तावेज की मांग कर सकता है। इन दस्तावेजों को निदेशालय ने चिंहित किया हुआ है। जिनमें से एक दस्तावेज को आवेदन के समय स्वप्रमाणित कर लगाया जा सकता है।

जिला स्तर पर स्कूलों की निगरानी करेगा शिक्षा निदेशालय
प्रक्रिया को पारदर्शी बनाने के लिए निदेशालय ने भी पूरी तैयारी की है। इसके तहत निदेशालय जिला स्तर पर स्कूलों की निगरानी करेगा। नर्सरी दाखिला प्रक्रिया को पारदर्शी बनाने के लिए शिक्षा निदेशालय ने जिला स्तर पर निगरानी सेल बनाई है। यह सेल जिला उपशिक्षा निदेशक की अध्यक्षता में काम करेगी। शिक्षा निदेशालय ने सेल की जिम्मेदारियां भी तय की हैं, जिसके तहत सेल सभी निजी स्कूलों पर नजर रखेगी और सुनिश्चित करेगी कि स्कूल निदेशालय की तरफ से दाखिला को लेकर जारी दिशा-निर्देशों का पालन हो।

निगरानी सेल नर्सरी दाखिले से जुड़ी शिकायतों को सुनने के साथ ही उनका निपटारा भी करेगी। सेल यह भी सुनिश्चित करेगी कि स्कूल दाखिला सूची जारी करने से पहले आवेदन करने वाले सभी बच्चों की सूची अंकों के साथ वेबसाइट पर अपलोड करें।

अभिभावक कर सकते हैं लिखित शिकायत
नर्सरी दाखिला प्रक्रिया में स्कूलों की मनमानी और अपारदर्शी रवैये की शिकायत के लिए शिक्षा निदेशालय ने व्यवस्था की है। इसके तहत अभिभावक अपनी शिकायत निदेशालय की वेबसाइट http://www.edudel.nic.in/ पर शिकायत निपटारे और निगरानी सेल के लिंक पर जाकर कर सकते हैं।

दाखिला के लिए डोनेशन नहीं मांग सकते स्कूल
नर्सरी दाखिला प्रक्रिया में बच्चों को दाखिला देने के एवज में स्कूल अभिभावकों से डोनेशन की मांग नहीं कर सकते हैं। निदेशालय ने स्पष्ट किया है कि दिल्ली उच्च न्यायालय ने अपने एक आदेश में दाखिला के एवज में डोनेशन को प्रतिबंधित किया है। अगर कोई स्कूल डोनेशन की मांग करता है, उस पर जुर्माना लगाया जा सकता है, जो मांगी गई डोनेशन की राशि से 10 गुना तक हो सकता है।

अहम तारीखें
– 18 फरवरी- दाखिला के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू
– 4 मार्च- आवेदन की अंतिम तारीख
– 9 मार्च- दाखिला के लिए आवेदन करने वाले बच्चों की सूची स्कूल बेवसाइट में अपलोड करेंगे
– 15 मार्च- दाखिला मानदंड के आधार पर आवेदन करने वाले बच्चों को मिलें अंकों के साथ सूची जारी करेंगे स्कूल
– 20 मार्च- दाखिला के लिए पहली मेरिट सूची जारी करेंगे स्कूल
– 22-23 मार्च- पहली सूची को लेकर सवाल-शिकायत को लेकर अपील कर सकेंगे अभिभावक
– 25 मार्च – दूसरी सूची  होगी जारी
– 27 मार्च- सीटें खाली रहने पर तीसरी सूची जारी कर सकते हैं स्कूल
– 30 मार्च- दाखिला प्रक्रिया का समापन

By anita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *